अंतर्राष्ट्रीयराष्ट्रीय

उम्मीद है कि पाकिस्तान जाधव को जल्द ही उपलब्ध कराएगा पूर्ण राजनयिक पहुंच: भारत

नई दिल्ली: जासूसी और आतंकवाद के आरोप में पाकिस्तान के जेल में बंद कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है, जिस पर अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय ने फिलहाल रोक लगा दी है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, “कुलभूषण जाधव के मामले में अनुकूल निर्णय आने के बाद आईसीजे के फैसले और वियना कन्वेंशन के अनुसार, हम उम्मीद करते हैं कि जल्द से जल्द उन्हें पूर्ण राजनयिक पहुंच प्रदान की जाएगी.”

उन्होंने आगे कहा कि भारतीय राजनयिक अधिकारी राजनयिक चैनलों के माध्यम से इस बाबत पाकिस्तान से संपर्क में हैं और मामले से जुड़ी घटनाक्रम की जानकारी प्रदान की जाएगी. आईसीजी के फैसले पर कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान 18 जुलाई को ‘पाकिस्तानी कानून के अनुरूप’ जाधव को राजनयिक पहुंच उपलब्ध करने के लिए तैयार हो गया था.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भी कहा है कि उसने जाधव को वियना कन्वेंशन के तहत कांसुलर एक्सेस के उसके अधिकारों की जानकारी उसे दे दी है. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा, “एक जिम्मेदार देश होने के नाते पाकिस्तान, कमांडर कुलभूषण जाधव को पाकिस्तानी कानून के मुताबिक राजनयिक पहुंच उपलब्ध कराएगा.”

भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि आईसीजी के फैसले के अनुरुप वह जल्दी से कार्रवाई करते हुए जाधव को राजनयिक पहुंच उपलब्ध कराए. मार्च 2016 में जासूसी के आरोप में हुई पूर्व अधिकारी की गिरफ्तारी के बाद से ही पाकिस्तान ने भारतीय अधिकारियों को जाधव से मिलने नहीं दिया है. इसीबीच, जाधव के परिवार वालों ने पूर्व विदेश मंत्री रहीं सुषमा स्वराज से गुरुवार को मुलाकात की.

नई दिल्ली में हुई इस मुलाकात की तस्वीर को सुषमा ने ट्विटर पर पोस्ट करते हुए लिखा, “कुलभूषण जाधव के परिवार के सदस्य आज (गुरुवार को) यहां मुझसे मिलने आए. मेरी ओर से उन्हें शुभकामनाएं.”

Tags
Back to top button