पैरेंटिंगलाइफ स्टाइल

बरतेंगे ये सावधानियां तो नहीं होंगे बच्चों के दांत टेढ़े-मेढ़े

चेहरे की सुंदरता बढ़ाने में दांतों का भी बहुत महत्व होता है लेकिन कई लोगों के दांत टेढ़े-मेढ़े होते हैं जिस वजह से उनकी खूबसूरती खराब हो जाती है।

ऐसे में बचपन से ही दांतों का सही तरह से ख्याल रखना चाहिए क्योंकि कम उम्र में जबड़े मुलायम होेते हैं और इसी उम्र में ही दांत खराब होने का खतरा रहता है। आइए जानिए टेढे़पन से बचाव के लिए क्या सावधानियां बरतनी चाहिए।

1. कुछ बच्चों को अंगूठा चूसने और दांतों से होंठ काटने की आदत होती है। इन बुरी आदतों की वजह से दांत टेढ़े-मेढ़े हो जाते हैं। ऐसे में जब भी बच्चा अगूंठा मुंह में डाले या दांतों पर जीभ लगाए तो उसकी इस आदत को छुड़ाएं।

2. अगर आपका बच्चा सोते समय मुंह खोलकर सांस लेता है तो उसकी इस आदत की वजह से ऊपर वाले दांत बड़े हो जाते हैं और बाहर निकलने लगते हैं।

3. कई बार बच्चों के दूध के दांत टूटने से पहले ही पक्के दांत निकलने लगते हैं। इस वजह से दांत गलत जगह पर आ जाते हैं और टेढ़े हो जाते हैं। ऐसे में जब भी आपके बच्चे के साथ ऐसा हो तो डैंटिस्ट के पास ले जाकर दूध के दांत निकलवाएं।

4. अक्सर पेरेंट्स बच्चों को छोटी उम्र में डैंटिस्ट के पास ले जाने से डरते हैं लेकिन इस उम्र में ही अगर दांतों की कोई समस्या हो तो वह जल्दी ठीक हो जाती है। ऐसे में हर 6 महीने के बाद बच्चों को डैंटिस्ट के पास जरूर लेकर जाएं।

5. टेढ़े-मेढ़े दांतों को ठीक करने के लिए ब्रेसिज लगवाए जाते हैं। छोटी उम्र में इससे ज्यादा फायदा होता है। ऐसे में बच्चों के दांतों को ठीक करने के लिए उन्हें ब्रेसिज जरूर लगवाएं। ब्रेसिज लगवाने पर बच्चों को च्यूंगम और ज्यादा मीठा खाने से परहेज करवाना चाहिए।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Parenting
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.