100 से अधिक गुण्डा तत्वों समेत फेरीवालों पर कसा शिकंजा

मनमोहन पात्रे:

बिलासपुर: जिले के सभी शहरी थाना क्षेत्रों में पुलिस ने गुण्डा बदमाश और संदेहियों के खिलाफ सघन जनसम्पर्क अभियान चलाया है। अभियान के दौरान 100 से अधिक लोगों की छानबीन की गयी। कई निगरानी शुदा गुण्डा बदमाशों की घर पहुंचकर जानकारी ली गयी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओपी शर्मा ने बताया कि कई संदेहियों से थाने में बुलाकर पूछताछ हुई। तो कुछ लोगों के खिलाफ अलग अलग थानों में 151 और 107/116 के तहत कार्रवाई की गयी है।

सघन जांच पड़ताल अभियान चलाया

अतिरिक्त पुलिस कप्तान ओ पी शर्मा के निर्देश पर आज शहर के सभी थाना क्षेत्रों में सघन जांच पड़ताल अभियान चलाया गया। एडिश्नल एसपी ने बताया कि अभियान के दौरान 100 से अधिक लोगों की छानबीन हुई। निगरानी शुदा और क्षेत्र के बदमाशों के ठिकानों पर धावा बोला गया।

ओपी शर्मा ने बताया कि अभियान का मुख्य उद्देश्य आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाना है। इन्ही बातों के मद्देनजर आज शहर के सभी थाना क्षेत्रों में चेकिंग अभियान चलाया गया है। अभियान के दौरान पुलिस ने गुण्डा बदमाशों और फेरिवालों की तलाशी ली गयी।

फेरीवालों से पूछताछ हुई

कोनी थाना क्षेत्र के सेंदरी में प्लास्टिक डिब्बा ड्रम की बिक्री करने वालों के अलावा और फेरीवालों से पूछताछ हुई है। सभी को निर्देश के बाद छोड़ा गया है। निगरानी शुदा बदमाश दुर्गेश, राकेश, जय गुप्ता, दीपक गुप्ता को चेक किया गया। कालू सोनी राजू ठाकुर, पंचराम वस्त्रकार, शभूु यादव की तलाशी हुई है।

सरकण्डा थाना में जवानों ने उत्तरप्रदेश के सोहनपाल, रीवा का किशन जायसवाल, लक्की सोनकर की मुसाफिरी को देखा गया। सिविल लाइन थाने में दस गुण्डा और 6 निगरानीशुदा बदमाशोंं की पड़ताल की गयी है। दो के खिलाफ 151 और अन्य लोगों पर 107/116 के तहत मामला दर्ज किया गया। मैडी ऊर्फ रितेश समेत कई अपराधियों से पूछताछ हुई।

सिरगिट्टी थाना क्षेत्र के गुण्डा बदमाशों पर भी शिकंजा कसा गया। चेकिंग के दौरान सभी बदमाश अपने घर में ही मिले। इसके अलावा तारबाहर थाना और सिटी कोतवाली क्षेत्र में गुण्डा बदमाश और फेरिवालों के खिलाफ चेकिंग अभियान चलाया गया। तोरवा और चकरभाठा थाना क्षेत्र में चेकिग के दौरान निगरानी शुदा बदमाश घर में पाए गये। कुछ की जानकारी मिली कि कमाने खाने बाहर गए हैं।

ओम प्रकाश शर्मा ने बताया कि निगरानी और सतर्कता को ध्यान में रखते हुए विशेष चेकिंग अभियान को समय समय पर चलाते रहने का फैैसला लिया गया है। औचक जांच के दौरान बाहर से आने वालों के अलावा निगरानी शुदा बदमाश, गण्डा और फेरीवालों की जांच पड़ताल होगी। इसके अलावा सभी की गतिविधियों पर नजर रखा जाएगा।

Back to top button