कैसे होगी वेतन विसंगति दूर?कैसे होगी गणना? क्या कहा प्रांत अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने? पढिये पूरी खबर

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ने कमेटी के द्वारा बनाया गया गणना पत्रक देखना चाहा।

रायपुर : आज दिनांक 18.10. 2021 को छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन डेलिगेशन टीम की कमेटी के द्वारा सहायक शिक्षकों के वेतन विसंगति के संबंध में वेतन गणना में भाग लेने हेतु आमंत्रित किया गया था प्रांत अध्यक्ष मनीष मिश्रा की अगुवाई में कौशल अवस्थी, छोटे लाल साहू, शेषनाथ पाण्डे, राजकुमार यादव ,राजू लाल टंडन, राम लाल साहू, हेम कुमार साहू अजय राजपूत, जितेंद्र कुमार साहू कांकेर इत्यादि सम्मिलित हुए वेतन विसंगति दूर करने हेतु सहसंचालक डीपीआई काबरा सर एवं वित्त विभाग कौशल सर से लगभग 1 घंटे वार्तालाप हुई।

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ने कमेटी के द्वारा बनाया गया गणना पत्रक देखना चाहा। साथ-साथ यह मांग की, की कमेटी ने अभी तक वेतन संगति दूर करने हेतु क्या क्या कदम उठाए हैं? उनकी जानकारी दी जाए। क्या और किस तरह की प्रक्रिया कमेटी उठा रही है? कमेटी ने क्या सुझाव तैयार किया है इसे दिखाने की माँग की। इस पर माननीय काबरा सर एवं कौशल सर द्वारा यह आश्वासन दिया गया कि कमेटी पूरी तरीके से सहायक शिक्षकों के पक्ष को रखते हुए निर्णय करेगी और वेतन विसंगति के खाई को पाटने हेतु अपने सुझाव प्रस्तुत करेगी। माननीय काबरा सर द्वारा संगठन से सुझाव मांगा गया।

यह कहा कि एक गणना पत्रक बना करके हमको दीजिए । जिसमें 1998 से लेकर 2021 तक सारी जानकारी के लिखित में गणना के माध्यम से बताइए। साथ में कहां पर गड़बड़ी हुई, इसे भी इंगित कर दीजिए। इस गणना व सुझाव को यथावत आगे कमेटी के माध्यम से बढ़ाने की बात कही। छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ने सारी बातों को विस्तार पूर्वक समझाया और सहायक शिक्षकों के लिए 9300-4200 की मांग की और इसे लिखित में तर्क देते हुए,गणना करते हुए समझाया और इस गणना पत्र को काबरा सर को सौपा।

गणना पत्रक को देखने के बाद उन्होंने स्वीकार किया कि, वाकई में संगठन ने बहुत ही अच्छा गणना व सुझाव दिया है और यह वाजिब है। इसे यथावत हम आगे बढ़ा देंगे । गणनापत्रक में 9300-4200 सभी सहायक शिक्षक के लिए मांगी गई है। प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने सारी बातों को तर्क पूर्ण तरीके से समझाया और हर शिक्षक के लिए 9300- 4200 के अनुसार वेतन निर्धारण की मांग कीयह जानकारी प्रदेश मीडिया प्रभारी राजू टंडन द्वारा जारी प्रेस नोट में दी गई है।*

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button