गुजरात

पति ही निकला पत्नी का हत्यारा, समलैंगिक पार्टनर के साथ रहने के लिए की हत्या

वह 18 करोड़ रुपए की लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी का फायदा लेकर अपने गे पार्टनर के साथ ऑस्ट्रेलिया में शिफ्ट होना चाहता था।

छह महीने पहले यूके में एक भारतीय मूल की महिला अपने घर में मृत पाई गई थी। जेसिका नाम की इस महिला के 37 साल के पति को ही मंगलवार को कोर्ट ने उसकी हत्या को दोषी पाया गया है। मितेश मूल रूप से गुजरात का रहने वाला है।

मितेश पटेल ने सुपरमार्केट से खरीदे गए प्लास्टिक बैग की मदद से पत्नी की हत्या की। उसने बीवी की हत्या अपने समलैंगिक पार्टनर के लिए की जिसके साथ वह नई जिंदगी शुरू करना चाहता था।

गे डेटिंग ऐप Grindr पर उसे उसके समलैंगिक पार्टनर की मुलाकात हुई थी। वह 18 करोड़ रुपए की लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी का फायदा लेकर अपने गे पार्टनर के साथ ऑस्ट्रेलिया में शिफ्ट होना चाहता था।

जेसिका पटेल की हत्या मई में नॉर्दन इंग्लैंड के मिडल्सब्रो इलाके में स्थिक उसके घर में हुई थी। जेसिका पेशे से फार्मासिस्ट थी।

इस साल मई में मितेश ने पुलिस को खुद से फोन कर घर में लूटपाट और पत्नी की हत्या की सूचना दी थी। उसकी इस बात पर घर वालों ने विश्वास कर लिया पर वो पुलिस के शक के घेरे में था।

जेसिका की हत्या का संदेह मितेश पर ही जा रहा था लेकिन उसने इन आरोपों से इनकार किया था। लेकिन पुलिस जांच में जुटी थी और सबूत मितेश की ही खिलाफ थे। मितेश को सबूतों के आधार पर गिरफ्तार किया गया और कोर्ट ने उसे उम्रकैद की सजा सुनाई।

 

Summary
Review Date
Reviewed Item
पति ही निकला पत्नी का हत्यारा, समलैंगिक पार्टनर के साथ रहने के लिए की हत्या
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags