हैदराबाद गैंगरेप: कोताही बरतने वाले एक एसआई समेत 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड

पुलिसकर्मियों ने समय पर रिपोर्ट दर्ज नहीं की

हैदराबाद: तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना के बाद इस मामले में पुलिस कमिश्नर ने लापरवाही बरतने वाले एक एसआई समेत 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है.

ड्यूटी में लापरवाही बरतने के मामले में विस्तृत जांच

साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार ने कहा, “27-28 नवंबर की दरम्यानी रात को एक महिला के लापता होने के मामले में शमशाबाद पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज देरी से दर्ज की गई. ड्यूटी में लापरवाही बरतने के मामले में विस्तृत जांच की गई.

जांच नतीजों के आधार पर, सब इंस्पेक्टर एम. रवि कुमार, हेड कॉन्स्टेबल पी. वेणुगोपाल रेड्डी और हेड कॉन्स्टेबल ए. सत्यनारायण गौड़ को अगले आदेश तक सस्पेंड कर दिया गया है.”

नाराज लोग बड़ी तादाद में सड़कों पर उतर आए

घटना को लेकर पूरे देश में आक्रोश है. नाराज लोग सुबह बड़ी तादाद में सड़कों पर उतर आए. सड़कों पर छात्राओं ने मार्च निकाला और दरिंदों को फांसी देने की मांग की. इससे पहले पुलिस स्टेशन के बाहर भी लोग इकट्ठा हुए और जमकर विरोध प्रदर्शन किया.

हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर इस कसबे के पुलिस थाने के सामने ‘हमें न्याय चाहिए’ का नारा लगाते हुए स्थानीय निवासियों ने धरना दिया, जिसमें महिलाएं और छात्र भी शामिल थे। वे आरोपियों को बिना पूछताछ और बिना सुनवाई के जल्द से जल्द फांसी पर लटकाने की मांग कर रहे थे.

कुछ प्रदर्शनकारियों ने कहा कि इन जैसे अपराधियों के लिए समाज में कोई जगह नहीं है, और इन्हें ‘एनकाउंटर’ में मार देना चाहिए.

वहीं पुलिस ने भी थाने के आसपास अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती के साथ सुरक्षा कड़ी कर दी है, ताकि आरोपियों को कोर्ट ले जाते वक्त कोई अवांछित घटना नहीं घटे. आरोपियों की पहचान ट्रक चालक मोहम्मद आरिफ, ट्रक चालक चिंताकुंता चेन्नाकेशावुलू, क्लीनर जोलु शिवा और जोलु नवीन के तौर पर हुई है.

आरिफ की उम्र 26 साल है, जबकि बाकी तीनों आरोपियों की उम्र 20 साल है. इन सभी को तेलंगाना के नारायणपेट जिले से गिरफ्तार किया गया है. आगे की जांच और घटनाक्रम जानने के लिए पुलिस इन आरोपियों को शुक्रवार रात घटनास्थल पर लेकर गई थी और उनके बयान दर्ज किए थे. आगे की पूछताछ के लिए उन्हें हिरासत में रखा गया है.

Back to top button