मैं कहती हूं कि मैं बहुत बड़ी मूर्ख हूं कि उन्हें पहचान नहीं पाई : ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने अधिकारी परिवार के खिलाफ गुस्सा जाहिर करते हुए कांथी में एक चुनावी रैली में कहा

कांथी: पूर्व मेदिनीपुर के अधिकारी परिवार के खिलाफ गुस्सा जाहिर करते हुए कांथी में एक चुनावी रैली में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने कहा कि कहा ‘मैं कहती हूं कि मैं बहुत बड़ी मूर्ख हूं कि उन्हें पहचान नहीं पाई.’

शुभेंदु अधिकारी के परिवार से ठनी

गौरतलब है कि आगामी चुनाव में नंदीग्राम विधान सभा क्षेत्र से ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी चुनावी मैदान में आमने-सामने हैं. शुभेंदु ने पिछले साल दिसंबर में तृणमूल कांग्रेस छोड़ दी थी और वह भाजपा में शामिल हो गए थे. जिले में राजनीतिक दबदबा रखने वाले अधिकारी परिवार के अधिकांश सदस्य या तो भाजपा में शामिल हो गए हैं या उन्होंने भाजपा में शामिल होने की इच्छा व्यक्त की है.

शुभेंदु अधिकारी के पिता एवं तृणमूल कांग्रेस के सांसद शिशिर अधिकारी रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो गए.

मीर जाफर से तुलना

ममता बनर्जी ने रैली में कहा, ‘मैं कहती हूं कि मैं बहुत बड़ी मूर्ख हूं (आमी एकटा बरा गधा) कि उन्हें पहचान नहीं पाई. मुझे नहीं पता, लेकिन लोगों का कहना है कि उन्होंने एक बड़ा साम्राज्य बना लिया है और वे मत खरीदने के लिए धन का इस्तेमाल करेंगे, लेकिन उन्हें वोट मत दीजिएगा.’

मुख्यमंत्री ने कहा कि सत्ता में आने के बाद वह इसकी जांच कराएंगी. उन्होंने अधिकारी परिवार की तुलना ‘मीर जाफर’ (गद्दार) से की और कहा कि क्षेत्र के लोग इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे और अपने वोट से इसका जवाब देंगे.

‘जमींदारों की तरह शासन किया’

ऐसा माना जाता है कि मीर जाफर ने 1757 में प्लासी के युद्ध में नवाब सिराजुद्दौला से गद्दारी की थी, जिसके कारण भारत में ब्रितानी शासन के लिए रास्ता साफ हुआ था. ममता ने आरोप लगाया कि इस परिवार ने जिले में अपना नियंत्रण करके जमींदारों की तरह शासन किया है. उन्होंने आरोप लगया कि उनकी अनुमति के बिना वह भी जिले में प्रवेश या जनसभा नहीं कर सकती थीं. उन्होंने कहा, ‘मैं अब स्वतंत्र हूं और जिले में कहीं भी जा सकती हूं.’

‘बीजेपी बदमाशों और गुंडों की पार्टी’

ममता बनर्जी ने कहा कि उन्हें यह समझ नहीं आया कि तृणमूल में सब कुछ मिलने के बावजूद ये ‘गद्दार’ भाजपा में शामिल हो जाएंगे. उन्होंने राज्य के सरकारी कर्मियों के लिए सातवां वेतन आयोग लागू करने के केंद्रीय मंत्री अमित शाह के वादे पर निशाना साधते हुए पेट्रोल, डीजल और एलपीजी के बढ़ते दाम पर सवाल उठाए. तृणमूल प्रमुख ने भाजपा को ‘बदमाशों और गुंडों’ की पार्टी बताया.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button