मैं अपनी बेटियों और बालासाहेब ठाकरे की कसम खाकर कहता हूं कि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया: अनिल परब

मुंबई. महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री अनिल परब पूर्व मंत्री अनिल देशमुख और अन्य के खिलाफ दर्ज धन शोधन मामले में मंगलवार को यहां प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश हुए। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। ईडी ने शनिवार को मामले में पूछताछ के लिए परब (56) को दूसरी बार समन जारी किया था। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में परब के पास संसदीय मामलों का विभाग भी है। परब को मंगलवार को दक्षिण मुंबई के बलार्ड एस्टेट इलाके में ईडी के कार्यालय में पेश होने के लिए कहा गया था।

अधिकारी ने बताया कि मंत्री दिन में करीब 11 बजे जांच एजेंसी के कार्यालय पहुंचे। उन्होंने कहा कि ईडी कार्यालय के बाहर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई। जांच एजेंसी के कार्यालय के लिए रवाना होने से पहले परब ने संवाददाताओं से कहा कि वह मामले की जांच में ईडी का पूरा सहयोग करेंगे। मंत्री ने कहा, ‘‘मैं आज ईडी अधिकारियों के सामने पेश हो रहा हूं, मैं अब भी इस बात से अनजान हूं कि उन्होंने मुझे किस उद्देश्य से बुलाया है।

मैं अपनी बेटियों और दिवंगत शिवसेना सुप्रीमो (बालासाहेब ठाकरे) की कसम खाकर कहता हूं कि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है, इसलिए मैं ईडी कार्यालय जा रहा हूं।’’ परब ने कहा, ‘‘मैं जांच में सहयोग करूंगा और ईडी अधिकारियों के सवालों का जवाब दूंगा।’’ शिवसेना विधायक को एजेंसी ने पहली बार 31 अगस्त को पेश होने के लिए बुलाया था, जिसे उन्होंने आधिकारिक व्यस्तताओं का हवाला देते हुए अस्वीकार कर दिया था और अधिक समय मांगा था।

अधिकारियों ने पूर्व में कहा था कि अन्य आरोपियों और मामले में शामिल लोगों द्वारा कुछ ‘‘खुलासे’’ किए जाने के बाद महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ धनशोधन मामले की जांच में परब से पूछताछ की जानी है। समन ईडी द्वारा महाराष्ट्र पुलिस दल में कथित 100 करोड़ रुपये के रिश्वत और जबरन वसूली मामले में की जा रही आपराधिक जांच से संबंधित है। इसी मामले के कारण अप्रैल में देशमुख ने इस्तीफा दिया था।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button