हर टीम में मुझे बोझ ही समझा गया, नहीं मिला सम्मान -क्रिस गेल

गेल ने अपने आलोचकों पर निराशा जाहिर करते हुए कहा

जोहानिसबर्ग:वेस्टइंडीज के धाकड़ स्टार बल्लेबाज क्रिस गेल ने अपने आलोचकों पर निराशा जाहिर करते हुए कहा है कि वे हमेशा ही उस टीम पर बोझ होते हैं जिसके लिए वे खेलते हैं.

केवल एक ही टीम या फ्रेंजाइजी का नहीं है मामला

गेल ने कहा कि इसमें सभी प्रारूप की दुनिया भर की टीमों के खिलाड़ी, प्रबंधन, प्रबंधन प्रमुख और बोर्ड सदस्य हैं. गेल हाल ही में चल रही दक्षिण अफ्रीका में मजान्सी सुपर लीग के जोजी स्टार्स टीम के लिए खेल रहे हैं.

उन्होंने अपना दर्द इसी दौरान बयां किया. गेल ने कहा, मैं इस टीम के बारे में ही बात नहीं कर रहा हूं. यह ऐसा है जो मैंने पिछले कुछ सालों में फ्रैंचाइजी क्रिकेट खेलते हुए महसूस किया है.

गेल ने कहा, “क्रिस गेल हमेशा ही बोझ रहा जब मैंने दो, तीन, चार बार रन नहीं बनाए. ऐसा लगता है कि एक खास व्यक्ति टीम पर बोझ है. और फिर आप कहासुनी सुनने लगते हैं. मैं किसी तरह का सम्मान हासिल करने वाला नहीं हूं. लोग यह याद नहीं रखते कि आपने उनके लिए क्या किया है. मुझे सम्मान नहीं मिलता. ”

गेल ने कहा कि आलोचना केवल उनकी वर्तमान फ्रैंचाइजी तक सीमित नहीं है, जिन्हें पिछले साल खिताब जीतने के बाद इस सीजन में अपना पहला मैच जीतना है. उनके पास लीग स्तर पर अभी चार मैच बाकी हैं, लेकिन गेल अब इस अभियान का हिस्सा नहीं होगें.

अब इसके साथ जीना सीख लिया है

गेल ने कहा, “और मैं इस फ्रैंचाइजी के बारे में ही बात नहीं कर रहा हूं. मैं आमतौर पर बात कर रहा हूं. यहां तक कि खिलाड़ी ही नहीं मैं प्लेयर्स, मैनेजमेंट, मैनेजमेंट हेड, बोर्ड मेंबर्स की भी बात कर रहा हूं क्रिस गेल को कभी सम्मान नहीं मिलता, एक बार क्रिस गेल फेल होता है, तो उसका करियर खत्म हो जाता है.

वह अच्छा नहीं है, वह बहुत खराब खिलाड़ी है और ऐसी बाकी बातें. मैं आमतौर पर इन बातों से उबर गया हूं. और ऐसी बातों की उम्मीद भी करता हूं और इनके साथ जिया है.”

Tags
Back to top button