PM के हेलीकॉप्टर की तलाशी लेने वाले IAS अधिकारी को मिली राहत, निलंबन पर लगी रोक

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के दौरान लागू आदर्श आचार संहिता के मद्देनजर एक चुनावी रैली के दौरान PM मोदी का हेलीकॉप्टर चेक करने के मामले में एक IAS अधिकारी पर गाज गिर गई थी। चुनाव आयोग ने संबंधित अधिकारी को निलंबित कर दिया था। इस मामले में अधिकारी को केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण से राहत मिल गई है। ट्रीब्यूनल ने आयोग के निलंबन के आदेश पर स्थगन दे दिया है।

दरअसल 1996 बेच के IAS अधिकारी मोहम्मद मोहसिन ने चुनावी रैली के दौरान पीएम मोदी के हेलीकॉप्टर की जांच भी की थी, इस मामले में उन्हें निलंबित होना पड़ा था। जिस पर उन्होंने सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेटिव ट्रिब्यूनल की शरण ली थी। मामले को सुनने के बाद ट्रिब्यूनल ने मोहसिन को राहत देते हुए सस्पेंशन आदेश पर स्टे दे दिया है। इस मामले में अगली सुनवाई 3 जून को होगी।

क्या था मामला

बता दें कि ओडिशा के संबलपुर में बतौर जनरल ऑब्जर्वर मोहम्मद मोहसिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की तलाशी ली थी। आयोग ने इसे चुनाव आयोग के वर्तमान नियमों का उल्लंघन माना था। इस तलाशी की वजह से पीएम मोदी को 15 मिनिट तक रुके रहना पड़ा था। वह कर्नाटक कैडर के आइएएस अधिकारी हैं। अप्रैल 2014 में जारी निर्देशों के मुताबिक एसपीजी सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों को तलाशी से छूट हासिल है।

Back to top button