अब यमुना तट पर फैलाई गंदगी तो होगा गुलेल से ‘हमला’

आगरा: कहावत है भय बिना प्रीत नहीं होती, आगरा में यमुना नदी को बचाने के लिये जुटे समाजसेवियों ने भी इसी कहावत को अपनाते हुए तट पर गंदगी फैलाने वालों को सुधारने के लिए अजब तरीका ढूंढा है. अभियान में जुटे वॉलंटियर्स गंदगी फैलाने वालों पर गुलेल से वार करते हैं. हालांकि, गुलेल में पत्थर नहीं बल्कि उसकी जगह गेंदे का फूल रखकर वार किया जाता है. एक सप्ताह पहले शुरू की गई इस अनोखी पहल ने अपना असर भी दिखाना शुरू कर दिया है और यमुना तट पर अब गंदगी करने वालों की तादाद में भारी कमी आई है.

रिवर कनेक्ट अभियान के संयोजक समाजसेवी ब्रज खंडेलवाल ने बताया कि आगरा की लाइफलाइन मानी जाने वाली यमुना नदी विलुप्त होने के कगार पर पहुंच चुकी है. भीषण गंदगी और उपेक्षा के चलते शहरवासी यमुना नदी को भूलने लगे थे. इसी को देखते हुए यमुना को बचाने का यह अभियान शुरू किया गया है.

Back to top button