कांग्रेस नेताओं के पास विजन होता तो पाक के हिस्से में नहीं जाता करतारपुर -मोदी

राजस्थान विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान कांग्रेस पर निशाना

जयपुर:

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अगर कांग्रेस नेताओं के विभाजन के वक्त विजन होता तो करतारपुर पाकिस्तान के हिस्से में नहीं जाता.

राजस्थान विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान के हनुमानगढ़ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए एक बार फिर कांग्रेस पर निशाना साधा है.

पीएम ने कहा, ‘विभाजन के समय अगर कांग्रेस नेताओं में इस बात की थोड़ी भी समझदारी, संवेदशीलता और गंभीरता होती तो 3 किलोमीटर की दूरी पर हमारा करतारपुर हमसे अलग नहीं होता.

कांग्रेस को 1947 में क्यों याद नहीं आया की करतारपुर हिन्दुस्तान में होना चाहिए? आज अगर करतारपुर कॉरिडोर बन रहा है तो इसका क्रेडिट मोदी को नहीं बल्कि देश की जनता के वोट को जाता है.

आपने वोट देकर एक ऐसे व्यक्ति को प्रधानमंत्री बनाया है जो जीता है आपके लिए, जागता है आपके लिए, वो जूझता है सिर्फ आपके लिए और अगर वो झुकता भी है तो वो भी आपके लिए.

साथ ही उन्होंने कहा, ‘सत्ता के मोह में कांग्रेस पार्टी ने इतनी गलतियां की है, जिनको आज पूरा देश भुगत रहा है. कांग्रेस की हर बड़ी गलती को ठीक करने का काम मेरे नसीब में आया है और मेरा नसीब मेरी हाथ की लकीरों ने नहीं बल्कि सवा सौ करोड़ देशवासियों के हाथ में है.

कांग्रेस की गलत नीतियों और पापों का ही परिणाम है कि देश के किसानों को मुसीबत झेलनी पड़ रही है. अगर एक किसान का बेटा, सरदार पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बने होते तो किसानों की ये हालत आज न होती. एक ही परिवार की 4 पीढ़ी जिनको न खेत की समझ है न किसान की समझ है, उन्होंने ऐसी नीति बनाई कि मेरे देश का किसान बर्बाद हो गया.’

Back to top button