छत्तीसगढ़राजनीति

आमजनता पानी उबाल कर पिए और पीलिया के लक्षण होने पर तुरंत डाक्टर के पास जाये : महपौर

महापौर ने लोगो से की अपील

आमजनता पानी उबाल कर पिए और पीलिया के लक्षण होने पर तुरंत डाक्टर के पास जाये : महपौर

रायपुर : महापौर प्रमोद दुबे ने नगर निगम रायपुर के स्वास्थ्य व जलप्रदाय विभाग की ओर से सभापति प्रफुल्ल विष्वकर्मा के साथ समस्त राजधानीवासियों से आव्हान करते हुए कहा है कि पीलिया से बचने का सबसे जरूरी उपाय है पानी को उबालकर पीना ।

उन्होने नागरिको से आव्हान करते हुए कहा कि जिसमे पीलिया के लक्षण दिखे, उसे तुरंत डाक्टरी उपचार शुरू करना चाहिए। पानी को 20 मिनट तक उबालकर ठंडा कर पीना चाहिए। 20 लीटर पीने के पानी में एक क्लोरीन गोली पीस कर डालकर 30 मिनट बाद उसका उपयोग करना चाहिए।

हापौर दुबे, सभापति विष्वकर्मा, ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को शौच के पष्चात एवं भोजन के पहले हाथ अच्छी तरह साबून से धोने का कार्य अनिवार्य रूप से करना चाहिए। किसी भी व्यक्ति को खुले में रखी बासी सडी गली खाद्य सामग्री का सेवन कदापि नहीं करना चाहिए।

चूंकि पीलिया के विषाणु मरीज के मल के साथ विसर्जित होते है। अतः किसी भी व्यक्ति को खुले में कदापि शौच नहीं करना चाहिए न किसी व्यक्ति को खुले में शौच करने देना चाहिए। ऐसा आकस्मिकता में होने पर उसी समय तुरंत मल की सफाई आवष्यक है।

महापौर ने कहा कि पीलिया वायरल हेपेटाइटिस ई प्रदूषित जल व भोजन से फैलने वाला संक्रामक रोग है। विषाणुओ के शरीर में प्रवेश करने के 15 से 50 दिनों में इस बीमारी के लक्षण प्रगट होते है। पीलिया का मुख्य लक्षण है भोजन का स्वाद न आना, भूख न लगना, पीले रंग की पेषाब होना, उल्टी लगना या होना, सिर मे दर्द होना, कमजोरी और थकावट लगना, पेट के दाहिने तरफ ऊपर की ओर दर्द होना, आखों एवं त्वचा का रंग पीला होना आदि ।

पीलिया रोग से सभी को नुकसान होता है, लेकिन इससे गर्भवती महिलाओं को अधिक खतरा होता है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.