खेल

अगर टीम मैनेजमेंट चाहता है तो मुझे रूकने में कोई गुरेज नहीं: हार्दिक पंड्या

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की टेस्ट टीम में शामिल नहीं हार्दिक

सिडनी: सफेद गेंद के क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाले ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने कहा कि अगर टीम मैनेजमेंट चाहता है तो उन्हें रूकने में कोई गुरेज नहीं. पीठ की सर्जरी के बाद वापसी करने वाले हार्दिक पंड्या ने अभी नियमित तौर पर गेंदबाजी शुरू नहीं की है.

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे और टी-20 में बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया जिससे मेहमान टीम वनडे सीरीज के 2 मैच गंवाने के बाद टी20 सीरीज अपने नाम करने में कामयाब रही.

यह पूछने पर कि क्या वह 17 दिसंबर से शुरू होने वाली 4 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए रुकना चाहेंगे तो पंड्या ने कहा, ‘ये अलग तरह का मुकाबला है, मुझे लगता है कि मुझे होना चाहिए, मेरा मतलब मुझे कोई परेशानी नहीं है लेकिन आखिर में ये फैसला मैनेजमेंट पर है.

इसलिए हां, मुझे नहीं लगता कि मैं इसके बारे में ज्यादा कुछ कह सकता हूं.’ मुंबई इंडियंस को आईपीएल 2020 में खिताबी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने के बाद पंड्या ऑस्ट्रेलिया पहुंचे थे.

भारतीय ऑलराउंडर पंड्या ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान उन्होंने जरूरत के समय मैच फिनिश करने में महारत हासिल करने पर काम किया. पंड्या ने 22 गेंद में 42 रन की आक्रामक पारी खेलकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में भारत की 6 विकेट की जीत में अहम भूमिका निभाई.

उनकी मदद से मेहमान टीम ने आखिरी ओवर में 14 रन बनाकर तीन मैचों की टी20 श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली। पंड्या ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘लॉकडाउन के दौरान मैं जरूरत के समय मैच फिनिश करने पर ध्यान लगाना चाहता था. ये मायने नहीं रखता कि मैं ज्यादा रन जुटाऊं या नहीं.’ ये आल राउंडर रविवार को एससीजी में बनी परिस्थितियों के लिए नया नहीं था, उन्होंने पिछले कुछ मैचों में ऐसे ही हालात में कुछ में जीत दिलाई जबकि कुछ एक में हार का भी सामना करना पड़ा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button