अगर आप बैंक खाता बंद करवाना चाहते है तो ये जरूर पढ़ें

रायपुर।

अगर बैंक खाता बंद करवाना सोच रहे हैं तो आपको जीएसटी के साथ भुगतान करना होगा। बैंकिंग अफसरों से मिली जानकारी के अनुसार अगर आप एसबीआई में चल रहे बैंक खाते को बंद करवाने का विचार बना रहे हैं तो आपको 500 रुपए के शुल्क के साथ जीएसटी का भी भुगतान करना होगा।

आपसे यह शुल्क एवं जीएसटी उस सूरत में वसूला जाएगा, जब आप अपना खाता 14 दिन से लेकर एक साल के भीतर बंद करवाएंगे। यह जानकारी बैंक के कापोर्रेट वेबसाइट एसबीआई डॉट को डॉट इन में उपलब्ध कराई गई है।

खास बात यह है कि अगर ग्राहक बैंक खाता खुलवाने के 14 दिनों के भीतर उसे बंद करवाने के लिए आवेदन करता है तो उसे कोई चार्ज नहीं देना होगा। इसके अलावा भी कुछ अन्य शर्तें होती हैं, जब एसबीआई खाताधारकों को बैंक खाता बंद करवाने के लिए कोई शुल्क नहीं देना होता है।

एसबीआई खाताधारकों को 14 दिन के फ्री लॉक इन पीरियड के साथ अकाउंट खोलने की अनुमति देता है, जिसमें खाताधारक बिना किसी शुल्क के इस अवधि के दौरान अपना खाता बंद करवा सकता है।

एसबीआई की वेबसाइट के मुताबिक इस अवधि के भीतर अगर कोई खाताधारक अपना खाता बंद करवाता है तो उसे निल चार्ज पर खाता बंद करवाने की सुविधा मिलती है। बैंकिंग सूत्रों का कहना है कि बैंकिंग कोड्स एंड स्टैंडर्ड बोर्ड आॅफ इंडिया एक आॅटोनॉमस बॉडी है, जिसके सदस्यों में एसबीआई का भी प्रतिनिधित्व होता है।

एक साल बाद एसबीआई खाता बंद करवाने की सूरत में

बैंक वेबसाइट के मुताबिक एक साल से पुराने बैंक खाते को बंद करवाने की सूरत में कोई भी शुल्क नहीं वसूला जाता है। इसके अलावा बैंक से जुड़े बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट अकाउंट खाताधारकों की ओर से रेगुलर सेविंग बैंक अकाउंट बंद करवाने पर भी कोई शुल्क नहीं देना होता है।

Back to top button