ननद को फैन बनाना चाहती है तो याद रखिए ये बातें

पति में हो बुराईयां तो ननद से ना करें शेयर

शादी का रिश्ता जितना अटूट अपने जीवनसाथी के साथ होता है,उतना ही परिवार के सदस्यों के साथ होता है। यदि ससुराल में आपकी ननद हो तो आपको अपनी सारी बाते भी शेयर करने का मौका होता है।भाभी-ननद का रिश्ता बहनों के रिश्ते के जितना ही प्यारा होता है। यदि आपकी ननद हमउम्र है तो वो रिश्ता एक दोस्त के समान है।

यदि आप अपने और ननद के बीच प्यार का संबध और इस रिश्ते को ओर अ़टूट बनाना चाहती है तो अपने रिश्तों में रखें से कुछ बातें याद

अगर आप अपनी ननद को फैन बनाना चाहती है तो अपनी खरीदी कोई भी नई चीज सबसे पहले उसे ऑफर करें। जिस से उसे लगेगा कि आप उसे दिल से चाहती है और आप अपनी चीजों को पर्सनल नहीं समझती। इस तरह वह भी आपसे अपनी कोई चीज नहीं छुपाएंगी।

आपके पति में जितनी भी बुराईयां हो पर अपनी ननद के सामने कभी न बोलें क्योंकि कोई भी बहन अपने भाई की बुराई नहीं सुनती। वह आपकी बातें अपने भाई को बता सकती है जिससे आपके रिश्ते में दरार पड़ सकती है। इससे तो बेहतर है आप ही उन्हें शांति से समझाएं।

अगर आपकी ननद आपसे फ्रैंड के तरह रहती है और आपसे सभी पर्सनल बाते शेयर करती है तो आप उसकी बातों को कभी भी घर में किसी से भी शेयर न करें। अगर आपको उनकी कुछ बातें गलत लगती हो तो आप ही उसे प्यार से समझाएं। उसे यह भी न लगे कि आप उसे रोक-टोक करती है।

भले ही आप अपना काम करके फ्री हो गई हो, यह कभी मत सोचो कि यह उसका ही काम है और आप ही खत्म करें बल्कि उस वक्त उसकी काम में हाथ बटाएं और उससे बाते करें।

Back to top button