छत्तीसगढ़

मानव तस्करी मामले IG ने दिये जांच के आदेश

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

राजनांदगांव/डोंगरगढ़ – डोंगरगढ़ मानव तस्करी मामले में दुर्ग आईजी विवेकानंद सिन्हा ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दुर्ग ग्रामीण प्रज्ञा मेश्राम के नेतृत्व में सात सदस्यीय जांच टीम का गठन किया है। राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में बीते दिनों मानव तस्करी मामले में आवेदक शुभम जैन की रिपोर्ट पर अपराध क्र।

550/2020, धारा 363, 365, 366, 368, 370 – ए (2), 376, 34 भादवि में पंजीकृत हैं।जिसमें कुछ आरोपी गिरफ्तार हैं। एएसपी प्रज्ञा मेश्राम के नेतृत्व में एक टीम बनाई जाती है,प्रज्ञा मेश्राम,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण),जिला दुर्ग,इस मामले के अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी और अन्य पहलुओं पर एक संक्षिप्त चर्चा के लिए टीम में –

एम.एस चंद्रा नगर पुलिस अधीक्षक राजनंदगांव

निरीक्षक अलेक्जेंडर किरो,थाना प्रभारी डोंगरगढ़

3.उप निरीक्षक बिलकिश चौहान,राजनंदगांव

सउनि बीआर बिसेन थाना डोंगरगढ़

म.प्र. आरक्षक ए.पी. शीला थाना डोंगरगढ़

आर.क्र. मनीष मानिकपुरी सायबर सेल राजनांदगांव

आर.क्र. राजेन्द्र राविक थाना डोंगरगढ़

पुलिस स्टेशन डोंगरगढ़ अपराध की जांच के लिए गठित टीम को मामले में साक्ष्य संकलन करके और अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने और नियमानुसार कार्रवाई करने के लिए अपराध जांच की प्रगति की जांच करने के लिए निर्देशित किया जाता है।

इस संबंध में आज महिला आयोग की अध्यक्ष किरणमयी नायक ने आज राजनांदगांव पहुंच कर प्रेस से चर्चा की तथा भाजपा को अवसर वादी पार्टी बताते हुए कहा कि घटना पुरानी थी लेकिन जब मीडिया में आया तब उन्होंने अपनी पार्टी की पदाधिकारी को निष्कासित किया जबकि उन्हें पहले से यह जानकारी थी। प्रेस वार्ता में उनके साथ राजनांदगांव की महापौर हेमा देशमुख भी थीं

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button