राष्ट्रीय

आईआईटी छात्र ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में क्या लिखा-जानकर हैरान रह जाएंगे आप, पूरी खबर

नई दिल्ली : आईआईटी दिल्ली के एक छात्र ने शुक्रवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने छात्र के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। सुसाइड नोट में छात्र ने खुलासा किया है कि जब वह 11 साल का था, तभी से ही उसके मामा और मौसी के बेटे उसके साथ कुकर्म कर रहे थे।

आईआईटी में आने के बाद वह उस पर वापस घर आने के लिए दबाव बना रहे थे, जिस कारण वह डिप्रेशन में था। फिलहाल पुलिस ने छात्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच कर रही है।

बता दें कि बंगाल के हुगली का रहने वाला 21 वर्षीय गोपाल मालो आईआईटी दिल्ली में एमएससी केमेस्ट्री प्रथम वर्ष का छात्र था। 2 माह पहले ही गोपाल आईआईटी दिल्ली आया था। गुरुवार देर रात गोपाल ने नीलगिरी होस्टल के अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। गोपाल ने बंगाली में लिखा एक सुसाइड नोट छोड़ा है।

सुसाइड नोट में गोपाल ने लिखा है कि बचपन से ही मामा-मौसी के बेटे उसके साथ दुष्कर्म करते रहे हैं और वह यह सब अब और नहीं सह सकता। बीते 10 अप्रैल को भी गोपाल ने नींद की गोलियां खाकर खुदकुशी की कोशिश की थी, जिसके बाद गोपाल के दोस्तों ने उसे सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया था।

Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.