क्राइमछत्तीसगढ़

कोरोना वैक्सीन के नाम पर मरीजों 10 से 11 हजार रुपए की अवैध वसूली, मेकाहारा से गैंग के लोगों को मिलती थी संक्रमितों की लिस्ट

मामले में पुलिस ने मेकाहारा की स्टाफ नर्स के पति को गिरफ्तार किया है।

रायपुर: दुनियाभर में कोरोना महामारी को लेेकर हड़कंप मचा हुआ है, कई देशों से रोजाना लाखों नए मामले सामने आ रहे हैं। वहीं दूसरी ओर कई देशों कोरोना की वैक्सीन बनाने का भी काम लगातार जारी है। इसी बीच छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से कोरोना वैक्सीन के नाम पर अवैध वसूली का मामला सामने आया है, जहां टीका लगाने के नाम पर मरीजों से 10 से 11 हजार वसूले जा रहे थे। बताया जा रहा है कि गैंग के पास मरीजों की लिस्ट प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल मेकाहारा से पहुंचता था। मामले में पुलिस ने मेकाहारा की स्टाफ नर्स के पति को गिरफ्तार किया है।

मिली जानकारी के अनुसार राजधानी रायपुर में कोरोना वैक्सीन लगाने के नाम पर अवैध वसूली के मामले में पुलिस ने मेकाहारा की स्टाफ नर्स के पति को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि गैंग के लोग कोरोना मरीजों को टिका लगाने की बात कहकर झांसे में लेते ​थे और 10 से 11 हजार रुपए वसूल लेते थे। जानकारी यह भी है कि गैंग के लोगों को मेकाहारा अस्पताल से मरीजों की लिस्ट मिलती थी, जिसके बाद वे फोन पर उन्हें अपनी जाल में फंसाते थे। फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button