छत्तीसगढ़

शासन प्रशासन की सहभागिता से हीरा खदान क्षेत्र में अवैध तस्करी जारी : विनोद तिवारी

गरियाबंद ।

मैनपुर क्षेत्र के पायलीखंड और सेंधमुड़ा में हीरा की अवैध तस्करी को शासन प्रशासन की खुली छुट मिली हुई है। नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने का फायदा उठाकर प्रदेश के करोड़ों की इस संपदा का उड़ीसा और रायपुर क्षेत्र के बड़े-बड़े ठेकेदार खुलेआम तस्करी कर रहे हैं।
इन गांवों में रहने वाले ग्रामीण तस्करों से भय से पीड़ित है। बरसात के दिनों में इस क्षेत्र में तस्करी और बढ़ गई है जिसके चलते ग्रामीण हीरे की तलाश में खोदी गई सुरंग में अंदर तक जा घुसते है।

इसी सुरंग मे कई बार मिट्टी धंस जाने के कारण कई लोगों की जान भी चली गई हैं, लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं कराने के चलते उन मौतों की जानकारी वहीं दब कर रह जाती है।

मानवीय दृष्टिकोण से देखा जाए तो कुछ पैसो की लालच और तस्करों के दबाव के कारण ग्रामीण अपनी जान जोखिम में डालने को मजबूर है। उक्त बाते आज स्थानीय विश्राम गृह में पत्रकारों से चर्चा करते हुए छत्तीसगढ़ युवा जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी ने कही। इस दौरान उनके साथ प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक सोनवानी, छग युवा जनता कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सन्नी मेमन भी मौजूद थे।

हाल में ही पायलीखंड क्षेत्र का दौरा करके प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी ने आगे बताया कि कुछ वर्ष पूर्व सरकार द्वारा हीरा खदान क्षेत्र से सुरक्षा व्यवस्था हटा दी गई थी। कीमती संपदा होने के बाद भी सुरक्षा व्यवस्था हटाना संदेह उत्पन्न होता है। सरकार की नीयत साफ नही होने के चलते अवैध तस्करी लगातार जारी है।

उन्होने कहा कि सरकार शराब बेचने, मोबाइल बांटने, टिफिन बांटने में व्यस्त है लेकिन प्रदेश की कीमती संपदा को सुरक्षा देने मे ध्यान नही दे रही। यहां के हीरा खादान सहित पूरे प्रदेश मे भाजपा सरकार ने हीरा, कोयला, आयरन बाक्साइट पाये जाने वाले क्षेत्रो मे तस्करो को खुली छुट दे रखी हैं जो सरकार की सहभागिता को दशार्ता है।

उन्होने बताया कि छजगा द्वारा पुलिस अधीक्षक गरियाबंद को ज्ञापन सौप मैनपुर क्षेत्र के पायलीखंड और सेंधमुडा सहित अन्य खदान वाले क्षेत्रो मे सुरक्षा बल तैनात करने की मांग कर रही है। ताकि प्रदेश की कीमती संपदा सुरक्षित रहें और इस क्षेत्र मे रहने वाले भोलेभाले गरीब भी तस्कर के भय से मुक्त हों।

शासन प्रशासन द्वारा ध्यान नही देने पर उग्र आंदोलन करने की बात भी उनके द्वारा कही गई।
पत्रकार वार्ता के बाद प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी अपने कार्यकर्ताओं के साथ सीटी कोतवाली गरियाबंद पहुचे जहां उन्होने पुलिस अधीक्षक के नाम एसडीओपी संजय ध्रुव को ज्ञापन सौंपा और चर्चा कर पायलीखंड और सेंधमुड़ा मे सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराने की मांग की। सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

Back to top button