छत्तीसगढ़

प्रतिदिन सैकड़ो ट्रेक्टरों से हो रहा रेत का अवैध परिवहन, न पिटपास न रॉयल्टी धड़ल्ले से हो रही सप्लाय

नगरी : लॉक डाउन के दौरान मिली आंशिक छूट का फायदा खनिज माफिया खुल कर उठा रहे हैं और अवैध रूप से पूरी नदी पर ही कब्जा कर रेत का उत्खनन धड़ल्ले से किया जा रहा है।

नगरी विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम रतावा व पोड़ागांव के मध्य में बालका नदी है जहां पर सुबह से शाम तक ट्रेक्टरों की लाइन लगी रहती है जो इस नदी का सीना चीर कर अवैध रूप से रेत का उत्खनन कर ऊंचे दामों में क्षेत्र में सप्लाय कर रहे हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस बालका नदी का दोहन इसी क्षेत्र के ग्राम पोड़ागांव व रतावा के कुछ लोगों के द्वारा धड़ल्ले से किया जा रहा है। अन्य गांव के या जरूरतमन्दों को यहां नो एंट्री है किंतु कुछ लोगों ने इस नदी पर अपना आधिपत्य जमा लिया है और प्रतिदिन सैकड़ो ट्रिप रेत का दोहन कर ऊंचे दामो पर नगरी से लेकर पूरे सिहावा क्षेत्र में सप्लाय किया जाता है।

इस अवैध उत्खनन में न तो पीट पास की जरूरत है और न ही किसी को रॉयल्टी देने की ।उल्टे चिन्हाकित ट्रेक्टरों का ही प्रवेश है।प्रतिदिन इस नदी से निकल कर सरपट दौड़ने वाले ट्रेक्टरों से दुर्व्हटना का खतरा मंडराता है वह अलग,ग्रामीणों ने खनिज विभाग व नगरी एसडीएम से इस पर तत्काल कार्यवाही करने की मांग की है। इस संबंध में एसडीएम नगरी से चर्चा करने पर उन्होंने जांच कर कार्यवाही करने की बात कही है।

Tags
Back to top button