क्राइम

ऑनर किलिंग : हेड कॉन्स्टेबल और पत्नी के सामने बेटी की हत्या

एक संदिग्ध ऑनर किलिंग मामले में दिल्ली पुलिस के एक हेड कॉन्स्टेबल और उनकी पत्नी पर अपनी 20 साल की बेटी की मौत की साजिश में शामिल होने के आरोप लगे हैं।

खबरों के मुताबिक झज्जर के सुरहेती गांव में रहने वाले दंपती अपनी नर्सिंग स्टूडेंट बेटी के पड़ोसी गांव के एक लड़के से अफेयर के चलते नाराज था।

एफआईआऱ के मुताबिक से पीड़िता के मामा जसवंत (40) ने माता-पिता की मौजूदगी में लड़की की गला घोंटकर हत्या कर दी।

पीड़िता के पिता वेदपाल (48) वरिष्ठ आर्मी अधिकारी थे जिन्होंने समयपूर्व सेवानिवृत्ति के बाद दिल्ली पुलिस को जॉइन किया था। वेदपाल और उनकी पत्नी मोनी देवी को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि जसवंत को पकड़ने के लिए पुलिस की तलाशी जारी है।

झज्जर पुलिस ने बताया कि परिवार ने मौत को आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया लेकिन ग्रामीणों ने ऑनर किलिंग पर शक जताया।

एफआईआर में पुलिस ऑफिसर ने लिखा कि पीड़िता वंदना, पड़ोसी गांव ढाकला के रहने वाले राहुल नाम के लड़के के साथ कथित रूप से रिलेशनशिप में थी। परिवार को जब ये बात पता चली तो उन्होंने वंदना से उस लड़के से दूर रहने को कहा लेकिन उसके बाद भी वह मिलने जाया करती थी।

24-25 अक्टूबर की मध्य रात्रि को वंदना के मामा और माता-पिता ने उसे लड़के से न मिलने की दोबारा हिदायत दी। जब वंदना ने इसे मानने से इंकार कर दिया तो डेढ़ बजे के करीब मामा ने उसका गला दबाकर मौत के घाट उतार दिया।

जांच अधिकारी, सब इंस्पेक्टर सतबीर सिंह ने बताया कि दोनों माता-पिता ने आरोप स्वीकार कर लिये हैं। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान दोनों रो रहे थे और पछतावा महसूस कर रहे हैं।

दोनों ने कहा कि उन्होंने अपनी बेटी की हर ख्वाहिश पूरी करने की कोशिश की लेकिन वह हमारे हाथ से निकल गई थी। इसके बाद मामा ने जिसे परिवार वालों ने ही बुलाया था, अभिवावक की मौजदूगी में हत्या की। तीनों के खिलाफ हत्या और इसकी साजिश का मामला दर्ज कर दिया गया है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
ऑनर किलिंग
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *