गुजरात में हनुमानजी को सांता क्लॉज जैसे कपड़ों में देख फूटा लोगों का गुस्सा

30 तारीख की सुबह उन्हें लाल और सफेद रंग के बॉर्डर वाले कपड़े पहनाए गए

अहमदाबाद

गुजरात में हनुमानजी के कपड़ों को लेकर शुरू हो गया है. गुजरात के बोटाद में सारंगपुर हनुमान को कष्टभंजन देव के तौर पर जाना जाता है. लोगों को यहां के हनुमान जी में बेहद श्रद्धा और आस्था है.

30 तारीख की सुबह उन्हें लाल और सफेद रंग के बॉर्डर वाले कपड़े पहनाए गए. इस पर आसपास के लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और विवाद शुरू हो गया.

सारंगपुर हनुमान को सांता क्लॉज जैसे कपड़ों में देख कर उनके दर्शन करने आए लोगों में गुस्सा फूट पड़ा और विवाद शुरू हो गया. मंदिर प्रशासन ने बीच बचाव की कोशिश की और श्रद्धालुओं को बताया कि कपड़े हनुमान जी के अमेरिका में रहने वाले एक भक्त ने भेजे थे.

कपड़े भेजने के पीछे कोई गलत मंशा नहीं

प्रशासन ने सफाई देते हुए कहा कि ऐसे कपड़े भेजने के पीछे कोई गलत मंशा नहीं थी बल्कि भगवान को ठंड न लगे, इसके लिए कपड़े पहनाए गए.

इन्हीं विवादों के बीच मंदिर के स्वामी विवेकसागर महाराज ने कहा कि हनुमान जी को पहनाए कपड़े सांता क्लॉज के नहीं हैं बल्कि वेलवेट के कपड़े होने की वजह से ऐसा लग रहा है. महाराज ने कहा कि ऐसे कपड़े पहना कर किसी की भावना को ठेस पहुंचाने का इरादा नहीं है. हालांकि, विवाद के बाद हनुमान जी के कपड़े हटा लिए गए.

new jindal advt tree advt
Back to top button