आपसी रिश्तों में मनमुटाव लाएंगी Terrace पर रखी ये चीज़ें

छत पर किसी भी तरह का फालतू सामान या कबाड़ नहीं रखना चाहिए

जैसे कि हम सब जानते हैं कि भारत में वास्तु को बहुत महत्व दिया जाता है। वास्तु विज्ञानियों और ज्योतिष के अनुसार अगर कोई व्यक्ति वास्तु शास्त्र के नियम आदि को अपनी जीवनशैली में अपनाता है तो उसके जीवन में आने वाली बहुत सी परेशानियां का अंत हो जाता है।

वास्तु शास्त्र में घर से संबंधित कई बातों के बारे में बताया गया है, इसके अनुसार अगर घर बनवाते समय वास्तु के नियमों का ध्यान रखा जाए तो घर में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहती है। तो आईए आज बात करते हैं कि वास्तु के मुताबिक घर की छत कैसी होनी चाहिए।

वास्तु शास्त्र की मानें तो घर कि छत पर किसी भी तरह का फालतू सामान या कबाड़ नहीं रखना चाहिए। माना जाता है कि इससे घर में नैगेटिव एनर्जी पैदा होती है। इसके अलावा परिवार के सदस्यों के बीच तनाव और मनमुटाव भी होने लगता है।

नया घर बनवाते समय इस बात का ध्यान रखें कि छत कभी भी तिरछी न हो क्योंकि वास्तु में चौकार-आयताकार छत ही शुभ मानी गई है। जिस घर की छत चौकोर न होकर तिरछी होती है, उस घर को लोगों के बीच आपसी प्यार कम हो जाता है और घर में रहने वाले सदस्यों की सेहत पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है।

वैसे तो वास्तु के अनुसार घर में कांटेदार और दूध निकलने वाले पौधे लगाना शुभ नहीं माना जाता। लेकिन गुलाब के पौधे को घर की छत पर लगा सकते हैं। किंतु इस बात का ध्यान रखें कि इसे घर के आंगन में कभी न लगाएं।

अक्सर देखने को मिलता है कि लोग अपनी घर की छतों पर अनाज और कपड़े सुखाते हैं। लेकिन वास्तु की मानें तो ऐसा करने से परिवार के सदस्यों के आपसी रिश्ते बिगड़ने लगते हैं।

Tags
Back to top button