छत्तीसगढ़जॉब्स/एजुकेशन

नीट 2020 में चौरसिया प्रतिभाओं ने बढ़ाया अपना नाम, हासिल की सफलता

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा/ संवाददाता : शिव कुमार चौरसिया

सब कहते हैं तुममें है बड़ा दम,
तभी तो चौरसिया कहलाते हैं हम

नीट 2020 में चौरसिया प्रतिभाओं ने बढ़ाया अपना नाम, शशांक चौरसिया, नवजीत चौरसिया, बिश्वास चौरसिया ने जगाया विश्वास


” होकर मायूस न यूँ
शाम की तरह ढलते रहिये,
जिंदगी एक भोर है
सूरज की तरह निकलते रहिये,
ठहरोगे एक पाँव पर तो थक जाओगे,
धीरे धीरे ही सही मगर,
लक्ष्य की ओर चलते रहिये। ”

जी हां, हम चौरसिया हैं, सिर्फ चौरसिया। जब एक बार ठान लेते हैं, तब करिश्माई दिखा देते हैं। हमारे पूर्वजों ने जितना हाड़तोड़ मेहनत किया है और देश दुनिया के अधरों पर लाली दी है, भले ही हम पीछे रह गए, पर मेहनत से कभी पीछे नहीं भागे हैं। पीछे भागना हमारी फितरत में नहीं है। अब हम हम भी जाग गए हैं और हमारी मेहनत सर चढ़कर बोल भी रहा है। कुछ अपवाद भी है, लेकिन उसका असर नहीं है।

जिस तरीके से चौरसिया समाज के प्रतिभाशाली बच्चों ने नीट 2020 को अपने नाम से जोड़ दिया है, वह एक बड़ी उपलब्धि है। आनेवाले वक्त में यह सफलता और आगे बढ़ेगी, हम उम्मीद कर रहे हैं। 2022-3023 में जो आईएएस, आईपीएस, पीसीएस में एक दर्जन से अधिक बच्चों की सफलता के लिए जो सपना देखा गया है, उसे मूर्त रूप भी प्रदान करना है। लक्ष्य बड़ा है, तो चौरसिया समाज के बच्चों को उसी हिसाब से तैयारी भी करनी होगी।

शशांक चौरसिया ने नीट 2020 में लहराया झंडे

नीट 2020 परीक्षा में विलासपुर के शशांक चौरसिया ने 720 में से 644 अंक लाकर ऑल इंडिया रैंक 5057 प्राप्त किया है। शशांक के पर‍िजन अपने बेटे की मेहनत और जज्बे से बहुत खुश हैं।
शशांक ने नीट की परीक्षा में 720 में 644 अंक हासिल किए हैं। शशांक के पिता अशोक चौरसिया छत्तीसगढ़ के पुलिस विभाग में सहायक उप निरीक्षक के पद पर हैं।

शशांक ने राजस्थान कोटा के Achiever Carrier Institute में अपनी नीट की तैयारी की है। शशांक चौरसिया अपनी पढ़ाई खत्म करने के बाद सर्जन बनना चाहते हैं।
………………………………………………….

गोगरी के नवजीत चौरसिया भी नीट 2020 में थे सफल

गोगरी के नवजीत चौरसिया डॉक्टर बनकर लोगों की सेवा करना चाहते हैं। गोगरी प्रखंड के बड़ी बलिया निवासी जयनंदन चौरसिया और अंजनी देवी के पुत्र नवजीत चौरसिया ने अपनी सफलता का श्रेय अपनी बहन, माता-पिता दादी और शिक्षक को दिया है।
महेशखूंट के डीपीएस में पढ़ाई कर डॉक्टर बनने का उन्होंने पहले सपना देखा था। 2 वर्ष तक वे 8 से 10 घंटे तक पढ़ाई की है। उनका ऑल इंडिया रैंक में 4077 जबकि ओबीसी सेक्शन में 1391 वां रैंक है।
………………………………………………………

विश्वास चौरसिया ने विश्वास जगाया , नीट 2020 में मारी बाजी

गौरी बाजार क्षेत्र के उसरी निवासी वासुदेव चौरसिया के पुत्र विश्वास चौरसिया ने 720 में 643 अंक प्राप्त कर सफलता हासिल की है। आल इंडिया रैंक 5255 है।
………………………………………

इसी तरह पूर्णिया के सूरज चौरसिया ने नीट 2020 में सफलता अर्जित करने में कामयाब रहे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button