छत्तीसगढ़

सड़क और इलाज के अभाव में बुजुर्ग ने दम तोड़ा

पत्थलगांव।

छत्तीसगढ़ में विकास के तमाम प्रयासों के बावजूद भी कुछ गांव ऐसे हैं जहां आज भी विकास की अति आवश्यकता है। छत्तीसगढ़ में कई गांव ऐसे हैं, जहां सड़क, बिजली, स्वास्थ्य सुविधाएं जैसी मूलभूत जरूरतों की कमी साफ दिखाई देती है। इनके अभाव में कई बार ग्रामीणों को अपनी जान तक गवांना पड़ जाता है। एक ऐसा ही मामला जशपुर जिले के पत्थलगांव तहसील का है जहां एक बुजुर्ग ने सड़क और इलाज के अभाव में दम तोड़ दिया है।

बताया गया है कि ग्राम पंचायत परसाटोली के आश्रित ग्राम गोलियाढ़ बनटोला निवासी रातूराम (65) लंबे समय से एक साथ कई बीमारियों से जूझ रहा था। जिसके कारण उसका इलाज रायगढ़ के एक अस्पताल में चल रहा था।

बता दें कि सप्ताह पर पहले ही रातूराम डिस्चार्ज होकर घर लौटा था। लेकिन शनिवार की सुबह एक बार फिर उसकी तबियत बिगड़ गई जिसके कारण परिजनों ने बुजुर्ग को अस्पताल ले जाने के लिये एक निजी वाहन किराए पर बुलाया था। किन्तु क्षेत्र में सड़क के अभाव के कारण वाहन गांव तक नहीं पहुंच सका।

इसके चलते मजबूरन परिजनों को खाट में लिटाकर ही रातूराम को ढाई किलोमीटर का सफर तय कर मुख्य मार्ग तक जाना पड़ा। इस दौरान पूरे एक घंटे का समय लग गया और बुजुर्ग को किसी तरह से कोतबा अस्पताल लाया गया जहां चिकित्सकों ने परीक्षण के बाद रातूराम को मृत घोषित कर दिया।

Tags
Back to top button