CM के क्षेत्र में किसान ने की खुदकुशी, बेटी की शादी केे लिए लिया था 9 हजार का कर्ज

छिंदवाड़ा। छिंदवाड़ा जिले के कुंडीपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम मेघासिवनी में एक गरीब किसान ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। वह कर्ज न चुका पाने से परेशान होना बताया गया है।

कुंडीपुरा पुलिस के मुताबिक ग्राम मेघासिवनी निवासी अकरू उइके (55) पुत्र मारू उइके का शव गुरुवार सुबह करीब 9 बजे उसी के खेत में फांसी पर लटका मिला। मृतक के बेटे कमलेश उइके ने बताया कि वे दो भाई और तीन बहनें है। उसकी एक बहन की शादी के लिए करीब 4 साल पहले पिता अकरू ने छिंदवाड़ा निवासी कबीर पटेल से 9 हजार रुपए उधार लिए थे, लेकिन पिता यह कर्ज अब तक नहीं चुका पाए।

हालांकि, कबीर पटेल ने कभी यह राशि नहीं मांगी। फिर भी पिता परेशान रहते थे। इसी कारण उन्होंने जान दी है। कमलेश ने बताया कि उनके परिवार पर मात्र दो एकड़ जमीन है। इसमें सिर्फ बारिश के सीजन में एक फसल ले पाते हैं। पिछले कुछ वर्षों से अच्छी बारिश न होने से फसल भी ठीक नहीं हो रही। इस कारण माता-पिता सहित वे सब मजदूरी करते हैं।

पटेल ने मकान भी दिया था

मृतक की पत्नी सकलवती ने बताया कि कर्जा देने वाले कबीर पटेल ने उन लोगों की आर्थिक तंगी देखते हुए मकान भी बनवाकर दिया था। उनके बेटे कमलेश को भी पढ़ाई के लिए छिंदवाड़ा स्थित खुद के घर में कमरा दिया है। उन्होंने कभी कर्ज चुकाने का भी नहीं बोला। किसी और व्यक्ति से भी पति अकरू ने कर्ज लिया हो, तो पता नहीं।

जांच की जा रही है

प्रारंभिक जांच में पाया है कि अकरू ने बेटी की शादी के लिए किसी से 9 हजार रुपए उधार लिए थे। जिन्हें वह लौटाना चाहता था, लेकिन आर्थिक स्थिति खराब होने से नहीं लौटा पाया। इसलिए आत्महत्या की है। मर्ग कायम कर विस्तृत जांच की जा रही है – मनोज राय, एसपी, छिंदवाड़ा

Back to top button