छत्तीसगढ़

माता-पिता की लड़ाई में बच्ची ने पिया जहर, डायल-112 ने बचाई जान

रायपुर।

माता-पिता के झगड़े से परेशान एक किशोर बच्ची ने नया रायपुर के सेक्टर-27 में जहर पीकर खुद को कमरे में बंद कर लिया। इसके बाद घबराए पैरेंट्स ने पहले तो दरवाजा खोलने की कोशिश की।

कामयाब नहीं हुए तो डायल-112 में कॉल किया। इस कॉल के 10 मिनट के भीतर इमरजेंसी रिस्पांस व्हीलर (ईआरवी) मौके पर पहुंची। साथ गई फोर्स ने तुरंत दरवाजा तोड़कर बच्ची को निकाला और अभनपुर सरकारी अस्पताल पहुंचाया। वहां बच्ची का इलाज चल रहा है। फिलहाल बच्ची की हालत खतरे से बाहर है।

राजधानी में सभी इमरजेंसी सेवाओं के लिए जारी किए गए टोलफ्री नंबर 112 को शुरू हुए एक हफ्ता भी नहीं बीता है और इसमें बड़ी संख्या में इमरजेंसी कॉल आ रहे हैं। इंचार्ज एएसपी ने बताया कि कॉल के बाद ईआरवी का रिस्पांस टाइम 10 मिनट और ग्रामीण इलाकों के लिए 30 मिनट रखा गया है।

पहले दिन शहर में ईआरवी 28 मिनट में पहुंची थी, लेकिन रिस्पांस टाइम सुधार लिया गया है। शुक्रवार को नया रायपुर से कॉल आने के बाद ईआरवी ठीक 10 मिनट में पहुंच गई थी। एएसपी ने बताया कि अब तक डायल-122 में 15 हजार से ज्यादा कॉल आए हैं। हालांकि इसमें लोगों के परीक्षण वाले कॉल ज्यादा हैं।

Tags
Back to top button