कुमकुम भाग्य के लेटेस्ट एपिसोड में अभि पर गिर गई प्रज्ञा

कुमकुम भाग्य

‘कुमकुम भाग्य’ के लेटेस्ट एपिसोड की शुरुआत होती है बैंक में दिखने वाली उस महिला से जो अभि और प्रज्ञा को आशीर्वाद दे रही ।

वह उन्हें लड़ाई न करने की सलाह देती है। इसी बात पर उन्हें दादी की याद आ जाती है। बूढ़ी लेडी अपना फोन मोना को देती है। मोना को लगता है कि उनके बीच कुछ तो है। उधर दिशा और आलिया में पूरब को लेकर लड़ाई शुरू है।

दिशा उसे पूरब की ओर कोई भी कदम उठाने को लेकर हिदायत देती है। वह कहती है कि अगली बार जब भी अंदर आए तो दरवाजा पर नॉक करके ही आए।

प्रज्ञा बैंक के रेकॉर्ड रूम में पहुंचती है। अभि भी उसके पीछे जाता है और कहता है कि यदि कोई तुमसे दूर हो गया तो इसका मतलब यह नहीं कि वह तुमसे प्यार नहीं करता है। वह कहता है कि उसके मन में उसके लिए हमेशा प्यार रहेगा।

वह कहता है कि उसने गलती कर दी, जिसकी वजह से यह सब हो गया। अभि कहता है कि वह जानता है कि प्रज्ञा को भी दादी से प्यार तो और वह भी रोई होगी।

प्रज्ञा उसके सामने आ जाती है। अभि कहता है कि तुम्हारी आंखों में इतना ग़म क्यों है? उधर डाकू मैनेजर से बातें कर रहा और कहता है कि वे अपने पार्टनर्स का इंतज़ार कर रहे। मैनेजर उन्हें वहां से जाने को कहता है और बाहर बैठने का आदेश देता है। प्रज्ञा कहती है कि जब भी हम मिलेंगे हमारा बीता हुआ कल हमारे सामने होगा।

प्रज्ञा अभि से उसका हाथ छोड़ने को कहता है। वह रोने लगती है। वह बूढ़ी औरत देखती हैं कि कार में बैंक का कर्मचारी लॉक है और वह कार खोलने की कोशिश करती है लेकिन तभी वहां डाकू आकर उसे बंदूक से धमकाते हैं।

अभि प्रज्ञा से अपने किए की माफी मांगता है। कियारा किंग को देखकर परेशान है और सोचती है कि उसे इतना बुखार है कि वह उसे अकेले नहीं छोड़ सकती । वह चाची से कहती है कि वह प्रज्ञा को कॉल लगाए। मैनेजर डाकूओं से कहता है कि बैंक से कैश लें और उसे छोड़ दें। वह बताता है कि चाभी कहां रखी है और इसके साथ जैसे ही वह अलार्म बजाने की कोशिश करता है, महिला दाकू उसे पकड़ लेती है।

उसके बाद वह कहती है कि अब वे बैंक लूटने को तैयार हैं। डकैत जो बाहर खड़े थे वे बूढ़ी औरत के साथ अंदर आ जाते हैं। वे मैनेजर से कहते हैं कि वहां मौजूद सब लोगों को बैंक के बीच में खड़ा कर लें। मैनेजर सभी को हॉल में बुलाता है। प्रज्ञा निकलने वाली है कि अभि उसे खींच लेता है और वह उसपर गिर जाती है। डाकुओं को कुछ गिरने की आवाज सुनाई देती है। अभि प्रज्ञा को कहता है कि कुछ बैंक में कुछ तो गड़बड़ क्योंकि उसने किसी के हाथ में बन्दूक देखा था।<>

Back to top button