राज्य में एक साथ कक्षा पहली से आठवीं तक की परीक्षाएं शुरू 43 लाख से अधिक बच्चें दे रहें परीक्षा

रायपुर : राज्य में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार और शिक्षकों की सतत क्षमता में विकास के लिए प्रदेश में पहली बार कक्षा पहली से आठवीं तक के सभी शासकीय शालाओं में एक समान प्रश्न पत्र के आधार पर परीक्षाएं आज से शुरू हो गई हैं, जो 16 अप्रैल तक संचालित होगी।

शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव, संचालक लोक शिक्षण, संचालक राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिसर द्वारा राज्य स्तर पर आयोजित परीक्षाओं की सतत मॉनिटरिंग की जा रही है। राज्य स्तर पर गठित टास्कफोर्स के सदस्यों, जिला शिक्षा अधिकारियों एवं जिला स्तर पर गठित दलों में भी परीक्षा केन्द्रों में जाकर आकस्मिक निरीक्षण किया।

स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य में पहली बार एक समान समय सारणी और एक समान प्रश्न पत्रों के आधार पर कक्षा पहली से आठवीं तक की परीक्षाएं आयोजित की जा रही हैं। पहले दिन आज कक्षा पहली से आठवीं तक अंग्रेजी विषय की परीक्षा आयोजित की गई। नई पद्धति से आयोजित परीक्षा के प्रति स्कूली विद्यार्थियों और शिक्षकों में उत्साह देखा गया। उत्साह को देखते हुए प्रतीत हो रहा है कि यह प्रयास जरूर रंग लाएगा।

अधिकारियों ने यह भी बताया कि प्रदेश में कक्षा पहली से आठवीं तक की 49 हजार 388 शासकीय शालाओं में अध्ययनरत 43 लाख दो हजार 821 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। इनमें से 33 हजार 089 प्राथमिक शालाओं के 26 लाख 71 हजार 372 और 16 हजार 299 माध्यमिक शालाओं के 16 लाख 31 हजार 449 विद्यार्थी शामिल हैं। परीक्षा के प्रश्नों का लर्निंग आउटकम के साथ मैपिंग किया गया है। कक्षा पहली से चौथी तक की परीक्षा में 15 प्रश्न पूछे जा रहे हैं, जिसे 2 घंटे में हल करना है।

इसी प्रकार कक्षा पांचवी से आठवीं तक के प्रश्न पत्रों में भी 15 प्रश्न पूछे जा रहे हैं जिन्हें ढाई घंटे में हल करना है। कक्षा पहली और दूसरी का प्रश्न पत्र 30 अंकों, कक्षा तीसरी और चौथी का प्रश्न पत्र 50 अंकों का और कक्षा पांचवी से आठवीं तक का प्रश्न पत्र 100 अंकों का है।

स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इन परीक्षाओं के आधार पर पढ़ाई की गुणवत्ता जांचने के लिए स्कूलों में राज्य स्तरीय आकलन होगा, जो एन.सी.आर.टी. नई दिल्ली द्वारा निर्धारित लर्निंग आउटकम पर आधारित होगा। इसके प्राप्त परिणामों का उपयोग बेहतर टिचिंग डिजाईन के लिए किया जाएगा।

Tags
Back to top button