अमेरिका में भारतीय मूल के व्यक्ति को रिश्वत लेने के आरोप में कारावास की सजा

एक उपनगरीय बस एजेंसी के भारतीय मूल के पूर्व प्रबंधक को अमेरिका में रिश्वत लेने के आरोप में एक साल कारावास की सजा सुनाई गई है।

अमेरिका के उत्तरी जिले इलिनोइस के अटॉर्नी जनरल जॉन लॉस्च ने कहा कि सचदेवा ने कॉन्ट्रेक्टर से रिश्वत मांगी और स्वीकार की। इसके बदले उन्होंने कॉन्ट्रे्क्टर के साथ काम जारी रखने के लिये अपने पद के प्रभाव का इस्तेमाल किया।

शिकागो के स्कॉमबर्ग के रहने वाले राजिन्दर सचदेवा (54) पर वर्ष 2010 से 2014 के बीच बस एजेंसी का प्रबंधक रहने के दौरान दौरान एक आईटी कॉन्ट्रेक्टर से करीब 2,12,02,500 रुपये (300,000 अमेरिकी डॉलर) रिश्वत मांगने का आरोप है।

सचदेवा ने अपने नियंत्रण वाली कंपनियों के जरिये राशि का भुगतान करवा कर एजेंसी से इस करार को छुपाये रखा। इस साल की शुरूआत में उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया था।

Back to top button