इस राज्य में करीब 700 पादरियों पर लगे यौन शोषण का आरोप

कैथोलिक चर्च की ओर से बताई गई संख्या से कहीं ज्यादा

शिकागो:

इलिनोइस की अटॉर्नी जनरल लीसा मैडिगन ने बुधवार को कहा कि चर्च ने ऐसे पादरियों की संख्या 185 बताई थी, लेकिन उनके कार्यालय की जांच में यह संख्या काफी कम पाई गई है.

अमेरिका के इलिनोइस राज्य में करीब 700 पादरियों पर बच्चों के यौन शोषण का आरोप है, जो इससे पहले कैथोलिक चर्च की ओर से बताई गई संख्या से कहीं ज्यादा है. अमेरिका के मध्यपश्चिमी राज्य के शीर्ष अभियोजक ने यह खुलासा किया है.

कार्यालय का कहना है कि आरोपों की जांच अधूरी रही और कई मामलों में कानून का पालन नहीं किया गया और बाल कल्याण संस्थाओं को सूचना भी नहीं दी गई.

अटॉर्नी जनरल के कार्यालय की ओर से जारी बयान में शोषण के आरोपों से निपटने में चर्च की असमर्थता की आलोचना की गई है. मैडिगन ने कहा कि इस जांच के शुरूआती चरणों से पहले ही साफ हो चुका है कि कैथोलिक चर्च अपनी निगरानी नहीं कर सकता है.

आपको बता दें कि दुनियाभर में कैथोलिक चर्चों में यौन शोषण से जुड़ी घटनाओं के आरोपों के बीच अमेरिका से एक चौंकाने वाली खबर अगस्त माह में आई थी.

ग्रैंड ज्यूरी ने रिपोर्ट अपनी रिपोर्ट में खुलासा किया था कि 300 से अधिक पादरियों ने 1,000 से अधिक बच्‍चों का यौन शोषण किया और चर्च पर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की बजाय इन घटनाओं पर पर्दा डालने का आरोप है.

रिपोर्ट के मुताबिक, पेन्सिलवेनिया के करीब 300 रोमन कैथोलिक पादरियों पर 1,000 से भी अधिक बच्‍चों के यौन शोषण का आरोप लगाया गया है. 1940 के दशक से लेकर अगले 70 वर्षों में पादरियों ने ऐसी नापाक हरकतें की.

लेकिन उनके खिलाफ कार्रवाई की बजाय चर्च ने इन पर पर्दा डालने का काम किया. यौन उत्‍पीड़न के शिकार बच्‍चों की संख्‍या इससे कहीं अधिक हो सकती है, क्‍योंकि कुछ चर्च के गोपनीय रिकॉर्ड गायब हैं और कुछ पीड़ित ऐसे भी हैं, जो अब तक सामने नहीं आए हैं.

advt
Back to top button