सात जून को एक नया पोर्टल शुरू कर रहा आयकर विभाग, आनलाइन विवारण प्रस्तुत कर सकेंगे करदाता

प्रस्तत विवरण की तत्काल प्रोसेसिंग की सुविधा से जुड़ा होगा यह पोर्टल

नई दिल्ली:आयकर विभाग सात जून को प्रस्तत विवरण की तत्काल प्रोसेसिंग (पक्के अभिलखन) की सुविधा से जुड़ा एक नया पोर्टल शुरू करेंगा. जिस पर करदाता आनलाइन विवारण प्रस्तुत कर सकेंगे. इससे कर रिफंड की प्रक्रिया भी शीघ्र पूरी की जा सकेगी.

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) की एक विज्ञप्ति के अनुसार यह पोर्टल इनकमटैक्स.जीओवी.इन सात जून को शुरू किया जाएगा. इससे करदाताओं को विवरण प्रस्तुत करने में सहजता का अनुभव होगा.

बयान के मुताबिक सीबीडीटी एक नयी कर भुगतन प्रणाली भी 18 जून का शुरू करने जा रहा है. पोर्टल पेश किए जाने के बाद में मोबाइल ऐप भी जारी किया जाएगा ताकि करदाता उसकी विभिन्न सुविधाओं से परिचित हो सकें.

आयकर विभाग ने शुक्रवार को कहा कि उसने चालू वित्त वर्ष में अब तक 15.47 लाख करदाताओं को 26,276 करोड़ रुपये लौटाये हैं. कुल लौटायी गयी राशि में से व्यक्तिगत आयकर मद में 15.02 लाख से अधिक करदाताओं को 7,538 करोड़ रुपये जबकि कंपनी कर मद में 44,531 करदाताओं को 18,738 करोड़ रुपये के रिफंड जारी किये गये हैं.

आयकर विभाग ने ट्विटर पर लिखा है, ”केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने एक अप्रैल, 2021 से 31 मई, 2021 के बीच 15.47 लाख से अधिक करदाताओं को 26,276 करोड़ रुपये से ज्यादा रकम लौटाई.”

आयकर विभाग ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि राशि किस वित्त वर्ष से जुड़ी है. हालांकि, ऐसा माना जाता है कि जो रिफंड किये गये हैं, वह वित्त वर्ष 2019-20 के भरे गये कर रिटर्न से संबंधित हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button