Ind vs Aus: भारत की निगाहें चौथा टेस्ट जीतकर सीरीज पर कब्जा करने की

हम आखिरी टेस्ट मैच में भी इसी तरह का प्रदर्शन करने के लिए बेताब है।

मेलबर्न टेस्ट जीतकर सीरीज में अपराजेय बढ़त बना चुके भारत की निगाहें सिडनी में चौथा टेस्ट जीतकर सीरीज पर कब्जा जमाने पर रहेगी।

भारत ने रविवार को मेलबर्न में तीसरा टेस्ट मैच 137 रनों से जीतकर सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाई।

जीत के बाद कोहली बोले, हमारी टीम यही रुकने वाली नहीं है, हम आखिरी टेस्ट मैच में भी इसी तरह का प्रदर्शन करने के लिए बेताब है।

कोहली ने कहा कि हम सिडनी में ज्यादा सकारात्मक होकर खेलेंगे, हमने ट्रॉफी जरूर अपने पास रख ली है लेकिन हमारा काम यही खत्म नहीं हुआ है, हम आखिरी टेस्ट मैच जीतना चाहते हैं।

हम अतिआत्मविश्वास में नहीं आना चाहते हैं लेकिन स्थितियां बनी तो हम जीत के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगं। हम सिडनी टेस्ट के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

उन्होंने कहा, मैं जानता था कि इस पिच पर ऑस्ट्रेलिया के लिए 400 रनों का लक्ष्य हासिल कर पाना आसान नहीं होगा। यह पिच गेंदबाजों के लिए बहुत मददगार थी और हमारे गेंदबाजों ने इसका लाभ भी उठाया।

इसके अलावा तीसरे टेस्ट मैच में जीत का श्रेय कोहली ने गेंदबाजी को दिया, कोहली ने खासकर बुमराह की जमकर तारीफ की।

वही पूर्व क्रिकेटर्स द्वारा आलोचना के बारे में कोहली ने कहा कि वे बाहरी कमेंट्स नहीं पढ़ते हैं तो उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है।

मेरे लिए यह बात मायने रखती है कि ड्रेसिंग रूम में टीम के बीच क्या बातचीत हो रही है।

ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन ना देने के सवाल पर कोहली ने कहा कि हमने शुरू से ही फैसला किया था कि हम तीसरी पारी में बल्लेबाजी करेंगे क्योंकि वक्त के साथ पिच और खराब होती जा रही थी।

कोहली ने युवा ओपनर मयंक अग्रवाल की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि मयंक ने ऑस्ट्रेलियाई परिस्थितियों में बड़े खिलाड़ी के समान बल्लेबाजी की और अपना चरित्र दिखाया।

चेतेश्वर पुजारा ने शानदार खेल दिखाया तो हनुमा विहारी ने भी पिच पर समय गुजारकर अच्छा योगदान दिया। रोहित ने छठे क्रम पर उम्दा बल्लेबाजी की।

new jindal advt tree advt
Back to top button