क्रिकेटखेल

Ind vs Aus: भारत की निगाहें सिडनी में ऐतिहासिक सीरीज जीत पर

क्योंकि इस मैदान पर टेस्ट क्रिकेट में उसका रिकॉर्ड बहुत खराब रहा है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चौथा टेस्ट मैच सिडनी में गुरुवार से खेला जाएगा। सीरीज में 2-1 की बढ़त बना चुकी भारतीय टीम की निगाहें ऐतिहासिक सीरीज जीत पर रहेगी।

यह मैच बेहद रोमांचक होने की उम्मीद है क्योंकि भारत के खिलाफ अपने घर में पहली टेस्ट सीरीज हार से बचने के लिए ऑस्ट्रेलिया इस मैच को हर हाल में जीतना चाहेगा।

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर होने वाले इस मैच में जीत के लिए भारत को पूरा जोर लगाना होगा क्योंकि इस मैदान पर टेस्ट क्रिकेट में उसका रिकॉर्ड बहुत खराब रहा है।

भारतीय टीम ने यहां खेले 11 टेस्ट मैचों में से मात्र 1 मैच जीता है जबकि 5 मैचों में उसे हार मिली हैं।

उसके 5 मैच अनिर्णीत रहे हैं। भारत ने इस मैदान पर अपना एकमात्र टेस्ट मैच जनवरी 1978 में जीता था जब उसने ऑस्ट्रेलिया को पारी और 4 रनों से करारी शिकस्त दी थी।

इसके बाद से भारत 40 सालों में इस मैदान पर कोई टेस्ट मैच नहीं जीत पाया हैं।

इस जीत के बाद भारत ने इस मैदान पर 8 टेस्ट मैच खेले जिनमें से 4 में उसे हार मिली और 4 मैच ड्रॉ रहे।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पिछली सीरीज में इस मैदान पर खेला गया मैच ड्रॉ रहा था।

भारत के पास ऑस्ट्रेलिया में पहली सीरीज जीत का सुनहरा मौका :

भारत वर्तमान सीरीज में 2-1 की बढ़त बना चुका है और इस बार उसके पास ऑस्ट्रेलिया से उसी के घर में टेस्ट सीरीज जीतने का सुनहरा मौका है।

बॉल टैंपरिंग मामले में स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और केमरान बेनक्राफ्ट के बैन होने की वजह से ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी पंक्ति बहुत कमजोर हो गई है।

जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा और मोहम्मद शमी का भारत का तेज गेंदबाजी आक्रमण युवा और अनुभवहीन ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के लिए भारी साबित हो रहा है।

विराट कोहली और उसके जांबाज सिडनी में अंतिम टेस्ट में पूरी ताकत लगाएंगे क्योंकि वे जानते हैं कि यह जीत उनका नाम इतिहास में दर्ज करवा देगी।

भारत की निगाहें सिडनी में जीत के 40 साल के सूखे को खत्म करने के साथ ही ऐतिहासिक सीरीज जीत पर टिकी रहेगी।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Ind vs Aus: भारत की निगाहें सिडनी में ऐतिहासिक सीरीज जीत पर
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button