Ind vs Aus: ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए एकमात्र खतरनाक बल्लेबाज है रोहित

क्योंकि उनका ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ और ऑस्ट्रेलिया में रिकॉर्ड शानदार रहा है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज 12 जनवरी से खेली जाएगी। भारत का इस सीरीज में पलड़ा भारी रहने का अनुमान है।

मेजबान टीम को इस सीरीज में विराट कोहली की बजाए एक अन्य भारतीय खिलाड़ी से ज्यादा सतर्क रहना होगा।

इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज रोहित ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए सबसे बड़ा खतरा होंगे।

रोहित शर्मा भारतीय टेस्ट टीम के नियमित सदस्य नहीं है लेकिन वनडे में उनका रिकॉर्ड लाजवाब है।

आगामी वनडे सीरीज में मेजबान टीम के लिए सबसे बड़ा खतरा ओपनर रोहित होंगे क्योंकि उनका ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ और ऑस्ट्रेलिया में रिकॉर्ड शानदार रहा है।

रोहित ने अंतरराष्ट्रीय वनडे में 193 मैचों में 47.78 की औसत से 7454 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 21 शतक और 37 अर्द्धशतक जड़े।

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 28 मैचों में 66.37 की औसत से 1593 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वे एक दोहरा शतक (209) भी लगा चुके हैं।

उनके 21 शतकों में से 6 कंगारुओं के खिलाफ बने। ऐसा नहीं है कि रोहित ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने घर में ही रनों की फसल काटी, वे कंगारुओं के खिलाफ उनके घर में भी रनों का अंबार लगा चुके हैं।

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में 27 वनडे में 51.95 की औसत से 1143 रन बनाए हैं जिसमें 4 शतक और 4 फिफ्टी शामिल है।

2018 में अंतरराष्ट्रीय वनडे में रहा इन दो भारतीयों का दबदबा :

रोहित की पिछले वर्ष इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में जबर्दस्त धूम रही। उन्होंने 19 मैचों में 73.57 की औसत से 1030 रन बनाए। उन्होंने इस दौरान 5 शतक और 3 अर्द्धशतक जडे।

पिछले साल उनका सर्वोच्च स्कोर 162 रन था जो उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाए थे। रोहित उसी फॉर्म को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाए रखना चाहेंगे क्योंकि इसी वर्ष इंग्लैंड में विश्व कप होना है।

पिछले वर्ष रोहित के साथी और टीम के कप्तान विराट का तो वनडे क्रिकेट में दबदबा रहा और उन्होंने 14 मैचों में 133.55 की औसत से 1202 रन बनाए है।

ऐसा रहा रोहित का वनडे करियर :

रोहित ने इंटरनेशनल वनडे डेब्यू जून 2007 में बेलफास्ट में आयरलैंड के खिलाफ किया था। साल 2013 में उनके करियर में निर्णायक मोड़ आया जब उन्हें सलामी बल्लेबाज की जिम्मेदारी सौंपी गई।

उन्होंने वनडे में दोहरा शतक लगाया और उन्हें टेस्ट पदार्पण का मौका मिला। उन्होंने शुरुआती दो टेस्ट पारियों में शतक लगाने की खास उपलब्धि हासिल की। वे इंटरनेशनल वनडे में तीन दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के एकमात्र बल्लेबाज हैं।

1
Back to top button