Ind vs Aus: टीम इंडिया बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच जितने के लिए बेताब, सुनहरा मौका

पृथ्वी के हटने से टीम में शामिल किए गए मयंक अग्रवाल को टेस्ट डेब्यू का मौका मिलेगा।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरा टेस्ट मैच 26 दिसंबर से खेला जाएगा। दोनों टीमें इस समय 1-1 की बराबरी पर है और सीरीज में बढ़त के लिहाज से यह टेस्ट बहुत महत्वपूर्ण हो गया है।

दूसरा टेस्ट हार चुकी टीम इंडिया इस बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच को जीतने के लिए बेताब होगी और मेहमान टीम के लिए चिंता का विषय सलामी बल्लेबाजों की जोड़ी रहेगी।

दो प्रमुख खिलाड़ियों के बगैर खेल रहे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में पहली बार सीरीज जीतने का भारत के पास सुनहरा मौका है लेकिन इसके लिए उसे अच्छी शुरुआत चाहिए होगी।

पृथ्वी शॉ के चोटिल होकर सीरीज से बाहर होने से भारत की मुश्किलें बढ़ गई हैं। केएल राहुल और मुरली विजय दोनों टेस्ट मैचों में प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं और इस मैच में उनको मौका नहीं मिलने का अनुमान है।

पृथ्वी के हटने से टीम में शामिल किए गए मयंक अग्रवाल को टेस्ट डेब्यू का मौका मिलेगा। उनके जोड़ीदार के रूप में पार्थिव पटेल या रोहित शर्मा को उतारा जा सकता हैं। टीम प्रबंधन हनुमा विहारी से भी पारी की शुरुआत करवा सकता हैं।

रोहित शर्मा :

वनडे व टी 20 में भारत के लिए ओपनिंक करने वाले रोहित शर्मा को दूसरे टेस्ट मैच में चोट के चलते प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया गया था।

रोहित बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में भारत के लिए ओपनर के तौर पर एक विकल्प हो सकते हैं। पहले टेस्ट में रोहित ने 37 रन की पारी खेली थी और पुजारा के साथ पहली पारी में अच्छी साझेदारी की थी।

रोहित आक्रामक बल्लेबाज हैं और ऑस्ट्रेलियाई कंडीशन के लिए पूरी तरह से फिट हैं। अगर एक बार रोहित लय में आ गए तो वो एक ही सेशन में पूरे खेल को बदल सकते हैं।

मयंक अग्रवाल :

घरेलू मैचों में शानदार प्रदर्शन के जरिए भारतीय टेस्ट टीम में जगह बनाने वाले मयंक को शायद तीसरे टेस्ट में डेब्यू करने का मौका मिल जाए।

फिलहाल वो ओपनर के तौर पर सबसे शानदार विकल्प दिख रहे हैं। मयंक का हालिया प्रदर्शन भी अच्छा रहा है। वो देश हो या विदेश हर जगह उन्होंने रन बनाए हैं।

इंडिया ए के लिए भी उन्होंने जमकर रन बनाए हैं। पृथ्वी शॉ के चोटिल होने की वजह से ही उन्हें टीम में जगह मिली और वो इसके लिए लंबे वक्त से इंतजार कर रहे थे।

उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के लिए टीम इंडिया में शामिल किया गया था लेकिन खेलने का मौका नहीं मिल पाया था। अगर मयंक को मौका मिलता है तो हम उनसे अच्छी पारी की उम्मीद कर सकते हैं।

पार्थिव पटेल :

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के लिए पार्थिव भी ओपनर के तौर पर एक विकल्प हो सकते हैं। भारतीय टेस्ट टीम में इस वक्त वो सबसे सीनियर खिलाड़ी हैं।

उनके पास ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव है और जब वो 19 वर्ष के थे उस वक्त ही वर्ष 2004 में वो ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए थे।

अगर वो मयंक के साथ बल्लेबाजी करते हैं तो लेफ्ट-राइट का कॉम्बिनेशन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को परेशान कर सकता है।

पार्थिव को अगर विकेटकीपर-बल्लेबाज के तौर पर अगर टीम में शामिल किया जाता है तो टीम नंबर सात पर रिषभ पंत की जगह विकल्प के तौर पर दूसरे बल्लेबाज को शामिल किया जा सकता है।

advt
Back to top button