Ind vs NZ: शनिवार को भारत और न्यूजीलैंड का दूसरा वनडे

मेजबान टीम के लिए सीरीज में अपनी उम्मीदों का बनाए रखने के लिए यह मैच बेहद महत्वपूर्ण होगा।

पहले मैच में मिली करारी हार के बाद न्यूजीलैंड शनिवार को भारत के खिलाफ दूसरे वनडे में पलटवार करने के इरादे से मैदान में उतरेगा।

कीवी टीम इस मैच में भारतीय स्पिनरों को कोई तोड़ खोजना चाहेगी। मेजबान टीम के लिए सीरीज में अपनी उम्मीदों का बनाए रखने के लिए यह मैच बेहद महत्वपूर्ण होगा।

क्योंकि यदि भारत ने 2-0 की बढ़त बना ली तो उसे रोकना आसान नहीं होगा।

भारत ने पहला मैच आसानी से जीता था जिसके चलते उसके प्लेइंग इलेवन में किसी बदलाव की उम्मीद नहीं है।

टीम इंडिया ने पहले मैच में 8 विकेट से आसान जीत दर्ज की थी। भारतीय स्पिनरों ने इस मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए 7 विकेट लिए थे।

कुलदीप यादव ने 39 रनों पर 4, युजवेंद्र चहल ने 43 रनों पर 2 और केदार जाधव ने 1 विकेट लिया था।

भारतीय स्पिनर्स ने इससे पहले कभी भी न्यूजीलैंड में एक मैच में इतनी सफलता हासिल नहीं की थी।

इसके चलते कीवी टीम के लिए भारतीय स्पिनर चिंता का विषय होंगे और मेजबान टीम इनके खिलाफ विशेष रणनीति के साथ उतरेगी।

डग ब्रैसवेल की जगह कोलिन डी ग्रैंडहोम को उतारा जा सकता हैं। इसके अलावा भारतीय स्पिनरों की सफलता को देख ईश सोढ़ी को भी प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जा सकता है।

कप्तान केन विलियम्सन ने अकेले भारतीय गेंदबाजों का सामना करते हुए फिफ्टी लगाई थी और वे इस मैच में अपने साथी बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे।

भारत के प्लेइंग इलेवन में बदलाव की उम्मीद नहीं :

उधर भारतीय टीम में प्लेइंग इलेवन में बदलाव की संभावना नहीं के बराबर है। गेंदबाजों ने धमाकेदार खेल दिखाया था और इसके बाद शिखर धवन और विराट कोहली ने उम्दा बल्लेबाजी की थी।

कप्तान विराट कोहली तीन मैचों के बाद सीरीज में नहीं खेलने वाले है। तीसरे वनडे से पहले हार्दिक पांड्या टीम के साथ जुडेंगे, उस वक्त टीम में बदलाव संभावित है।

रनों का अंबार लगने की उम्मीद :

बे ओवल मैदान पर इस मैच में रनों का अंबार लगने की उम्मीद है। इस मैदान पर चार इंटरनेशनल वनडे मैचों में पहली पारी का औसत स्कोर 301 रहा है।

न्यूजीलैंड में किसी भी मैदान पर यह 2015 के बाद पहली पारी का सर्वाधिक औसत स्कोर है।

टीमें (संभावित):

भारत :

रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), अंबाती रायुडू, महेंद्रसिंह धोनी, केदार जाधव, विजय शंकर, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल।

न्यूजीलैंड :

मार्टिन गप्टिल, कोलिन मुनरो, केन विलियम्सन (कप्तान), रॉस टेलर, टॉम लेथम, हैनरी निकोल्स, कोलिन डी ग्रैंडहोम/डग ब्रैसवेल, मिचेल सेंटनर/ईश सोढ़ी, टिम साउदी, लोकी फर्ग्यूसन, ट्रेंट बोल्ट।

1
Back to top button