अंतर्राष्ट्रीय

एस-400 मिसाइल के अहम समझौते पर इसी हफ्ते हस्ताक्षर करेंगे भारत और रूस

4 अक्टूबर को भारत की यात्रा पर आ रहे रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

मॉस्को:

अरबों डॉलर के एस-400 मिसाइल के अहम समझौते पर भारत और रूस इसी हफ्ते हस्ताक्षर करेंगे। ये वही समझौता है जिसे लेकर अमेरिका भारत पर प्रतिबंध तक लगाने की धमकी दे चुका है।

4 अक्टूबर को भारत की यात्रा पर आ रहे रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भारत को एस-400 एयर डिफेंस सिस्टम बेचने की इस डील को अंतिम रूप देंगे। क्रेमलिन के विदेश नीति के अधिकारी ने इस बात की जानकार दी है। अधिकारी के अनुसार रूस और भारत के बीच यह सैन्य समझौता पांच अरब डॉलर का है।

पुतिन के विदेश नीति केसहयोगी यूरी उशाकोव ने कहा, ‘रूस के राष्ट्रपति की इस यात्रा की सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक एस-400 एयर डिफेंस सिस्टम को डीलीवर करने का समझौता भी है।’

भारत काफी समय से एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम खरीदने की योजना बना रहा है। वहीं, रूस कई महीनों से भारत को एयर डिफेंस सिस्टम बेचने को लेकर बातचीत कर रहा है। इस डील के लिए साल 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति के बीच बात हुई थी।

मालूम हो कि भारत ने वायु सेना के लिए रूस से एस -400 ट्रिम्फ वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली की खरीद के लिए कीमत संबंधी बातचीत मई में पूरी कर ली थी। उस वक्त कहा गया था कि इसकी घोषणा अक्टूबर में की जा सकती है।

गौरतलब है कि अमेरिका ने क्रीमिया पर कब्जे और साल 2016 में अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में कथित दखल के लिए सख्त सीएएटीएसए कानून के तहत रूस के खिलाफ सैन्य प्रतिबंध लगा रखा है।

सीएएटीएसए के तहत डॉनल्ड ट्रंप प्रशासन को रूस के रक्षा या खुफिया प्रतिष्ठान के साथ महत्वपूर्ण लेन-देन में संलिप्त देश और संस्था को दंडित करने का अधिकार मिला हुआ है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
एस-400 मिसाइल के अहम समझौते पर इसी हफ्ते हस्ताक्षर करेंगे भारत और रूस
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags