भारत ने लीबिया से शांति रक्षक दल से अपने जवानों को वापस बुलाया

नई दिल्ली : भारत ने लीबिया में ‘अचानक हालात’ खराब होने पर त्रिपोली में शांति रक्षक दल में तैनात सीआरपीएफ के 15 जवानों को वापस बुला लिया है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार को यह जानकारी दी।

स्वराज ने बताया कि लीबिया में हालात बिगड़ गए हैं। त्रिपोली में लड़ाई हो रही है। ट्यूनिशिया स्थित भारतीय दूतावास ने शनिवार को ही सीआरपीएफ के 15 जवानों की टुकड़ी को वापस बुला लिया था। उन्होंने भारतीय दूतावास के इस कार्य की सराहना भी की। ट्यूनिशिया स्थित भारतीय राजदूत के पास ही लीबिया का भी प्रभार है।

विदेश मंत्री ने मेहताब और मुस्तफा नामक दो लोगों के फोन नंबर भी बताए जिनसे त्रिपोली में फंसे भारतीय संपर्क कर सकते हैं।

फील्ड मार्शल खलीफा हफ्तार और सरकारी सेना के बीच संघर्ष तेज हो गया है। संयुक्त राष्ट्र ने दोनों पक्षों से दो घंटे के संघर्ष विराम का अनुरोध किया था, जिससे कि आम लोगों और घायलों को सुरक्षित निकाला जा सके। हफ्तार और सरकार के बीच जारी संघर्ष से लीबिया में गृहयुद्ध की स्थिति बनती जा रही है।

Back to top button