क्रिकेटखेल

भारत अपने गेंदबाजी में साझेदारी कर मेजबान टीम को परेशान कर सकती है : अश्विन

कई बार ऐसा ही होगा कि आप पूरी टीम को आउट नहीं कर सके, लेकिन आपको उन पर दबाव बनाना होगा।

भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने शुक्रवार को कहा कि ऑस्ट्रेलिया में बल्लेबाजी की तरह गेंदबाजी में भी अच्छी साझेदारी जरूरी है, क्योंकि यहां दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड की तुलना में विरोधी बल्लेबाजों को आउट करना मुश्किल होता है।

अश्विन ने कहा कि भारतीय गेंदबाजों को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन एकादश के खिलाफ अभ्यास करने का अच्छा मौका मिला। अश्विन ने दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा कि यहां साझेदारी में गेंदबाजी करना जरूरी है।

साझेदारी में गेंदबाजी के दम पर आप उन्हें परेशान कर सकते हैं। कई बार ऐसा ही होगा कि आप पूरी टीम को आउट नहीं कर सके, लेकिन आपको उन पर दबाव बनाना होगा। अश्विन को लगता है कि यहां कि पिच सपाट होगी और भारतीय टीम को सीरीज में समझदारी भरा खेल खेलना होगा।

इस भारतीय गेंदबाज ने कहा कि सीरीज में साझेदारी में गेंदबाजी करना काफी अहम होगा क्योंकि हार्दिक पंड्या चोटिल हैं और टीम को पांचवें गेंदबाज की कमी खल सकती है। यह बहुत आवश्यक है कि गेंदबाजी के समय आपको अपनी भूमिका के बारे में पता हो। भारतीय गेंदबाजों ने दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन अश्विन को लगता है कि यहां गेंदबाजों को लंबा स्पैल डालना होगा।

अश्विन ने कहा कि स्पिनर के तौर पर यह जरूरी है कि पहली पारी में योजना के मुताबिक गेंदबाजी की जाए। अगर दूसरी पारी में कुछ मदद मिली तो गेंद को सही जगह टप्पा खिलाने की कोशिश करूंगा।

उन्होंने कहा कि यह दौरा भी पिछले ऑस्ट्रेलियाई दौरे की तरह ही है। मेरे लिए वह अच्छी सीरीज रही थी, जहां से मेरे करियर में बदलाव आया था। ऑस्ट्रेलिया को दबाव में लाना जरूरी होगा। यहां हर घंटे खेल का रुख बदल सकता है। हमारे पास कुछ अच्छे बल्लेबाज हैं जो मैच का रुख बदल सकते हैं।<>

 

Summary
Review Date
Reviewed Item
भारत अपने गेंदबाजी में साझेदारी कर मेजबान टीम को परेशान कर सकती है : अश्विन
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags