अंतर्राष्ट्रीय

भारत ने पाक विदेश मंत्री के आतंकवादी हमले के आरोपों का किया खंडन

संयुक्त राष्ट्र में दूत एनम गंभीर ने खोला पाकिस्तान का कच्चा चिट्ठा

न्यूयार्कः

भारत ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी द्वारा लगाए गए आतंकी हमले में संलिप्तता जैसे आरोपों का खंडन करते हुए पाक को करारा जवाब दिया है।

संयुक्त राष्ट्र में भारत की दूत एनम गंभीर ने पाकिस्तान का कच्चा चिट्ठा खोलते हुए कहा, ‘चार साल पहले पेशावर के स्कूल पर जानलेवा आतंकवादी हमले से संबंधित यह आरोप बेतुका है।

पाकिस्तान की नई सरकार को याद होना चाहिए कि भारत में भी 2014 पेशावर हमले की निंदा की गई थी। संसद के दोनों सदन में हमले में मारे गए बच्चों को याद करते हुए दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई थी।’

बता दें कि पाक विदेश मंत्री कुरैशी ने भारत पर 2014 में पेशावर के स्कूल में हुए आतंकी हमले में शामिल होने का आरोप लगाया था।

‘राइट टू रिप्लाई’ के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए गंभीर ने कुरैशी के आरोपों का मजबूती से खंडन करते हुए कहा कि पाकिस्तान भले ही कहे कि उसने आतंकवाद पर नकेल कस दी है, लेकिन सच्चाई यही है कि आतंकी आज भी वहां खुलेआम घूम रहे हैं और लोगों को चुनाव तक लड़वा रहे हैं।

एनम ने कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और हमेशा रहेगा। उन्‍होंने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या पाकिस्तान इस सच्चाई से इंकार कर सकता है कि वह अपने यहां संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंकी सूची में शामिल 132 आतंकियों और 22 आतंकी संगठनों को पनाह नहीं दिए हुए है?

गंभीर ने आतंकवादी हाफिज सईद पर निशाना साधते हुए कहा कि पाकिस्तान में यूएन से घोषित आतंकी सईद वहां खुलेआम घूमता है।पाकिस्तान मानवाधिकार की बात करता है, लेकिन उसके मुंह से यह बातें खोखली लगती हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
भारत ने पाक विदेश मंत्री के आतंकवादी हमले के आरोपों का किया खंडन
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags