बिजली मंत्री- भारत बिजली के क्षेत्र में तेजी से बदलाव करने वाला प्रमुख देश बनकर उभरा

बिजली मंत्री ने कहा कि भारत ने पेरिस में सीओपी-21 सम्‍मेलन में 2030 तक बिजली उत्पादन क्षमता का 40 प्रतिशत गैर-जीवाश्म ईंधन स्रोतों से उत्‍पादन करने का संकल्‍प लिया था जो 38 दशमलव पांच प्रतिशत पर पहुंच चुका है।

केन्‍द्रीय बिजली मंत्री आर के सिंह ने कहा है कि भारत बिजली के क्षेत्र में तेजी से बदलाव करने वाला प्रमुख देश बनकर उभरा है।

भारतीय उदयोग परिसंघ- सी आई आई के आत्मनिर्भर भारत- अक्षय ऊर्जा विनिर्माण के लिए आत्मनिर्भरता विषय पर आयोजित सम्‍मेलन को सम्‍बोधित करते हुए श्री सिंह ने कहा कि भारत दुनिया में अक्षय ऊर्जा क्षमता के क्षेत्र में सबसे अधिक वृद्धि दर हासिल करने वाले देशों में से एक है।

बिजली मंत्री ने कहा कि भारत ने पेरिस में सीओपी-21 सम्‍मेलन में 2030 तक बिजली उत्पादन क्षमता का 40 प्रतिशत गैर-जीवाश्म ईंधन स्रोतों से उत्‍पादन करने का संकल्‍प लिया था जो 38 दशमलव पांच प्रतिशत पर पहुंच चुका है।

उन्होने कहा कि भारत ने 2030 तक 450 गीगावाट अक्षय ऊर्जा का उत्‍पादन करने का लक्ष्य रखा है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button