राष्ट्रीय

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 48 घंटे पूर्व सील कर दी जाएगी भारत-नेपाल सीमा

तैनात सभी सुरक्षा व खुफिया एजेंसियों को चौकस किया गया

बहराइच: लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्वक व निष्पक्ष ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पिछले दिनों भारत और नेपाल सीमा को मतदान से 48 घंटे पूर्व सील कर दिया जाएगा. जिसके मद्देनजर शनिवार से जिले से लगी भारत-नेपाल सीमा सील कर दी जाएगी.

इस संबंध में गुरुवार को रूपईडीहा थाने में बहराइच व नेपाल के पुलिस अधिकारियों द्वारा हुई बैठक में मतदान के दौरान फैसले की समीक्षा की गयी. बैठक में निर्णय लिया गया कि सीमा बंदी के दौरान गंभीर मरीजों व आवश्यक वस्तुओं को सघन तलाशी के बाद आने जाने की अनुमति दी जाएगी.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय सीमा की निगरानी के लिये तैनात सशस्त्र सीमा बल व पुलिस सीमा पार करने वालों की बारीकी से पड़ताल कर रही है. अंतरराष्ट्रीय सीमा को जोड़ने वाले सभी कच्चे, पक्के मार्ग, पगडंडियां, नदी व नालों की निगरानी के लिये सुरक्षा बल तैनात हैं.

जल मार्ग की निगरानी के लिए एसएसबी की जल पुलिस लगाई गई है. सीमा पर वाच टावर, सीसीटीवी कैमरों व खोजी कुत्तों की सहायता से अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है. अंतरराष्ट्रीय सीमा की निगरानी के लिए सीमा पर तैनात सभी सुरक्षा व खुफिया एजेंसियों को चौकस किया गया है.

एसपी ने बताया कि नेपाल के अधिकारियों ने पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया है. उन्होंने कहा कि मतदान के दिन भारतीय क्षेत्र में तो पूर्ण बंदी रहती ही है लेकिन नेपाल के बाजार खुले रहते हैं. सहमति बनाई गई है कि मतदान के दिन सीमा से सटे नेपाली इलाकों में भी शराब की दुकानें बंद रखी जायेंगी.

भारत की 1751 किलोमीटर व यूपी की करीब 550 किलोमीटर लम्बी सीमा नेपाल से सटी है. यूपी के बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, लखीमपुर, पीलीभीत, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर जिले नेपाल से सटे हैं. बहराइच में आगामी छह मई तथा बलरामपुर व श्रावस्ती में 12 मई को मतदान होना है.

Tags
Back to top button