स्टंप के पीछे धोनी की ‘कप्तानी’, बॉलर्स को बोलते रहे- ऐसे डाल ऐसे

महेंद्र सिंह धोनी अब भारतीय टीम की कप्तान नहीं हैं, लेकिन विकेटकीपर की भूमिका में उनकी समझ का जवाब नहीं. स्टंप्स के पीछे उनकी पैनी निगाहें युवा गेंदबाजों के लिए जहां काफी मददगार साबित होती हैं, वहीं क्रीज पर मौजूद बल्लेबाजों को मुसीबत में डालती है. विकेट के पीछे धोनी की अहमियत और उनकी नेतृत्व क्षमता एक फिर देखने को मिली.

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को पहले वनडे में मात देकर सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है. वर्षा बाधित मैच में ऑस्ट्रेलिया को 21 ओवरों में 164 रनों का टारगेट मिला था.

कंगारुओं को बेहतर शुरुआत नहीं मिली, लेकिन ग्लेन मैक्सवेल टीम इंडिया के लिए खतरा बनते दिखे. ऐसे हालात में धोनी कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल को लगातार बताते रहे कि उन्हें गेंदें कहां डालनी चाहिए.

कुलदीप ने मैच के बाद खुलासा किया कि धोनी ने उन्हें ऑस्ट्रेलियाई ओपनर को कैसे छकाएं, बताते रहे. कम अनुभवी दोनों स्पिनर्स को धोनी क्या इंस्ट्रक्शन देते रहे, इसे विकेट के पीछे लगे माइक ने पकड़ लिया. धोनी कहते सुने गए – ‘वो मारने वाला डाल ना, अंदर या बाहर कोई भी.’ धोनी ने चहल और कुलदीप से ऐसा कहा- ‘घूमने वाला डाल, घूमने वाला.’

जब मैक्सवेल ने कुलदीप के ओवर में तीन छक्के और चौके के सहारे 22 रन लूटे, तो धोनी ने उनकी गलती बताने में देर नहीं की और कहा- ‘स्टंप पे मत डाल. इसको इतना आगे नहीं.’ चहल को कहा- ‘तू भी नहीं सुनता है क्या? ऐसे-एसे डालो.’ आखिरकार चहल ने मैक्सवेल (18 गेंदों पर 39 रन) की पारी का अंत किया. लॉन्ग ऑन पर मनीष पांडे ने कैच पकड़ा.

advt
Back to top button