इंडिया vs साउथ अफ्रीका : इतिहास रचने उतरेगी टीम इंडिया

पिछले मैच में मिली हार के झटके से उबरते हुए विराट कोहली की टीम आठ सप्ताह लंबे इस दौरे को एक और श्रृंखला जीतकर अंजाम तक पहुंचाना चाहेगी.

टीम इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टी-20 सीरीज का आखिरी और निर्णायक मुकाबला आज केपटाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम में खेला जाएगा. भारतीय टीम निर्णायक तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में शनिवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उतरेगी तो उसका इरादा उतार चढाव से भरे इस दौरे का जीत के साथ शानदार अंत करने का होगा. पिछले मैच में मिली हार के झटके से उबरते हुए विराट कोहली की टीम आठ सप्ताह लंबे इस दौरे को एक और श्रृंखला जीतकर अंजाम तक पहुंचाना चाहेगी. तीन मैचों की श्रृंखला फिलहाल 1.1 से बराबर है. भारत ने जोहानिसबर्ग में पहला टी20 मैच 28 रन से जीता. इसके बाद दक्षिण अफ्रीका ने सेंचुरियन में छह विकेट से जीतकर बराबरी की. भारत ने न्यूलैंड्स पर कभी टी20 क्रिकेट नहीं खेला है . यहां भारत का यह पहला टी20 मैच है जबकि दक्षिण अफ्रीका ने यहां आठ टी20 खेलकर पांच गंवाए हैं.

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

उसे दो जीत 2007 टी20 विश्व कप में मिली और द्विपक्षीय श्रृंखला में एकमात्र जीत 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ मिली थी. दक्षिण अफ्रीका ने दिखा दिया है कि टी20 प्रारूप उसे अधिक रास आता है. उसने वर्षाबाधित पिंक वनडे जीता और इस श्रृंखला के पहले मैच में भी 204 रन का लक्ष्य हासिल करने के करीब पहुंचा था.

पिछले मैच में कार्यवाहक कप्तान जेपी डुमिनी ने मोर्चे से अगुवाई करते हुए रणनीति पर अमल किया. अब देखना यह होगा कि मेजबान टीम अपनी गेंदबाजी की क्या रणनीति बनाती है और भारतीय गेंदबाजों पर दबाव बनाने के लिए क्या करती है. पिछले मैच में दक्षिण अफ्रीका ने अंतिम एकादश में बदलाव नहीं किया और अब यह देखना होगा कि निर्णायक मैच में भी क्या वे इस पर कायम रहते हैं. जोन जोन स्मट्स प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं जबकि डेविड मिलर भी खराब फार्म में है. भारतीय टीम में जसप्रीत बुमराह पेट में खिंचाव के कारण बाहर रहे थे. अभी भी उनका खेलना तय नहीं है. टीम प्रबंधन उन्हें लेकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहेगा क्योंकि श्रीलंका में त्रिकोणीय श्रृंखला दो सप्ताह बाद ही खेलनी है.

भारतीय गेंदबाजों में जयदेव उनादकट काफी महंगे साबित हुए जिन्होंने 9.78 की औसत से 75 रन दिए. युजवेंद्र चहल ने आठ ओवर में 103 रन देकर एक विकेट लिया. ऐसे में कोहली गेंदबाजी आक्रमण में बदलाव की सोच सकते हैं. बुमराह के खेलने पर उनादकट को बाहर रखा जा सकता है. शरदुल ठाकुर ने चार ओवर में 31 रन देकर एक विकेट लिया था. भारतीय टीम अक्षर पटेल को भी उतार सकती है जिससे तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में हार्दिक पंड्या पर फोकस होगा.

इस प्रकार हैं टीमें

(भारत)
विराट कोहली ( कप्तान ), शिखर धवन, रोहित शर्मा, सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, एम एस धोनी, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, शरदुल ठाकुर .

(दक्षिण अफ्रीका)
जेपी डुमिनी ( कप्तान ), फरहान बेहार्डियेन, जूनियर डाला, रीजा हेंडरिक्स, क्रिस्टियान जोंकर, हेनरिच क्लासेन, डेविड मिलर, क्रिस मौरिस, डेन पीटरसन, आरोन फागिंसो, एंडिले पी, तबरेज शम्सी, जोन जोन स्मट्स .

Back to top button