उत्तर प्रदेशराज्य

लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर उतरेंगे IAF के 20 जेट

लखनऊ: यदि आप 20 से 24 अक्टूबर के दौरान ताज नगरी आगरा से लखनऊ जाना चाहते हैं या फिर लखनऊ से आगरा आना चाहते हैं तो आप एक्सप्रेस-के जरिए यह सफर नहीं तय कर सकेंगे। भारतीय वायुसेना आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर इन 5 दिनों के दौरान लैंडिंग और टेक-ऑफ का अभ्यास करेगी।

पिछले साल नवंबर में ही चालू हुए इस एक्सप्रेस-वे पर आईएएफ का यह पहला अभ्यास है। अधिकारियों के मुताबिक आईएएफ के फाइटर जेट दिन में इस एक्सप्रेस-वे का इस्तेमाल करेंगे।

युद्ध जैसी आपातकालीन स्थिति में सड़कों पर ही लैंडिंग और टेक-ऑफ के लिए पायलटों को तैयार करने के लिए यह अभ्यास किया जा रहा है।

रक्षा मंत्रालय (सेंट्रल कमांड) की पीआरओ गार्गी मलिक ने कहा, ‘इस अभ्यास में भारतीय वायुसेना के 20 एयरक्राफ्ट, फाइटर और ट्रांसपोर्ट, हिस्सा लेंगे। इनमें मिराज 2000, जगुआर, सुखोई 30 MKI और AN-32 ट्रांसपोर्ट शामिल हैं।’

मलिक ने कहा, ‘टेकऑफ और लैंडिंग का अभ्यास 24 अक्टूबर को ही होगा, लेकिन ट्रैफिक को 20 अक्टूबर से ही रोक दिया जाएगा। इस दौरान प्रशासन अभ्यास के लिए तैयारियां करेगा।’

पिछले साल इस एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के मौके पर 8 फाइटर जेट्स ने इस पर लैंडिंग की थी। उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज इंडस्ट्रियल डिवेलपमेंट अथॉरिटी के मुताबिक 20 से 24 अक्टूबर के दौरान आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर 219 से 324 किलोमीटर के रास्ते पर कोई भी वाहन नहीं चल सकता।

अथॉरिटी की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘अरौल से बिल्हौर के लिए ट्रैफिक डायवर्ट होगा। यात्रियों को 23 किलोमीटर बांगरमऊ की ओर जाना होगा, इसके बाद वह मियांगंज, हसन गंज और मोहान होते हुए वापस एक्सप्रेस-वे पर आ सकेंगे।’

Summary
Review Date
Reviewed Item
लखनऊ एक्सप्रेस-वे
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *