‘खूबसूरत क्रबिस्तान’ और ‘मंदिर’ जैसे विवादों के ढेर पर खड़ा है ताजमहल

आगरा: ताजमहल की खूबसूरती की खूबसूरती के तो अमेरिका के राष्ट्रपति सहित पूरी दुनिया कायल रही है. शहर का आगरा का नाम लेने से पहले हमेशा मुंह से पहले ताजनगरी ही निकलता है.

लेकिन पिछले कई सालों से ऐसा लगता है कि यह खूबसूरत इमारत विवादों के ढेर पर खड़ी है क्योंकि इसको लेकर कई बार विवाद हो चुके हैं. कभी इसे बनाने को लेकर विवाद है तो कोई कहता है कि इसमें लगे मजदूरों के हाथ काट दिए गए थे.

कई लोग तो इसके बनाने के उद्देश्य पर भी सवाल उठाते हैं. आज उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ आगरा जाकर ताजमहल का दीदार करेंगे और सफाई अभियान में हिस्सा लिया.

इससे पहले उन्होंने संगीत सोम के बयान पर सफाई दी थी कि ताजमहल भारत का है इसे भारतीय मजदूरों ने खून-पसीने से बनाया है.

खरीदे और बेचे जाने का विवाद

कई किताबों में दावा किया जाता है कि 1931 में मथुरा के सेठ लख्मीचंद जैन ने इसे नीलामी के दौरान 7 लाख में खरीद लिया था. हालांकि लोगों के विरोध की वजह से वह इसे खरीद नहीं पाए.

इसके बाद मिथलेश कुमार श्रीवास्तव जिसे नटवर लाल ठग के नाम से भी जानते हैं उसे यह तीन बार बेच चुका है.

मंदिर होने का दावा

कुछ सालों से दावा किया जा रहा है कि इसे एक मंदिर तोड़कर बनाया गया था. यह बात कहने वाले लोगों का कहना है कि यहां पर ‘तेजो महालय’ का नाम का एक मंदिर था जिसे तोड़कर शाहजहां ने वहां पर इस इमारत को बनाया था.

ऐसा कहने वालों में बीजेपी के वरिष्ठ नेता विनय कटियार भी शामिल हैं. वह इतिहासकार पीएन ओक की एक पुस्तक का हवाला देते हैं.

संगीत सोम का बयान

मेरठ के सरधना से बीजेपी विधायक संगीत सोम ने एक सभा में कह दिया कि ताजमहल मुगलों का बनवाया है जिन्होंने देश संगीत सोम ने कहा, “बहुत-से लोग इस बात से चिंतित हैं कि ताजमहल को यूपी टूरिज़्म बुकलेट में से ऐतिहासिक स्थानों की सूची से हटा दिया गया…

किस इतिहास की बात कर रहे हैं हम…? जिस शख्स (शाहजहां) ने ताजमहल बनवाया था, उसने अपने पिता को कैद कर लिया था… वह हिन्दुओं का कत्लेआम करना चाहता था… अगर यही इतिहास है, तो यह बहुत दुःखद है, और हम इतिहास बदल डालेंगे… मैं आपको गारंटी देता हूं…” संगीत सोम ने मुगल बादशाहों बाबर, औरंगज़ेब और अकबर को ‘गद्दार’ कहा, और दावा किया कि उनके नाम इतिहास से मिटा दिए जाएंगे.

‘ताजमहल भारत की पहचान नहीं हो सकती’

उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की पुस्तिका में विश्व धरोहर ताजमहल को शामिल ना किये जाने को लेकर हाल में उठे विवाद के बीच भाजपा की राष्ट्रीय अनुशासन समिति के सदस्य सत्यदेव सिंह ने गुरुवार को कहा कि यह इमारत कभी ‘भारत की पहचान’ नहीं हो सकती.

आजम खान का बयान

ताजमहल को लेकर संगीत सोम के बयान से पैदा हुए विवाद में अब समाजवादी पार्टी के नेता आज़म ख़ान भी कूद पड़े. आज़म खान का कहना है कि राष्ट्रपति भवन को भी गिरा देना चाहिए क्योंकि अंग्रेज़ों का बनाया ये राष्ट्रपति भवन गुलामी का प्रतीक है.

‘ताजमहल एक खूबसूत कब्रिस्तान’

ताज महल पर भाजपा नेता संगीत सोम के बयान को लेकर विवाद के बीच हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने इस स्मारक को ‘खूबसूरत कब्रिस्तान’ बताया. हरियाणा में भाजपा सरकार में स्वास्थ्य एवं खेल मंत्री विज ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ताजमहल एक खूबसूरत कब्रिस्तान है.’’

1
Back to top button