झारखंड में भूख से 40 साल के रिक्शाचालक की मौत, राशन कार्ड के लिए काट रहा था चक्कर

रांची: झारखंड में भूख से एक और मौत का मामला सामने आया है. धनबाद के झरिया के भालगढ़ा ताराबगान इलाके में एक रिक्शा चालक की भूख से मौत हो गई.

मृतक वैद्यनाथ दास की उम्र करीब 40 साल थी और वह बहुत गरीब था और इसे किसी भी सरकारी योजना का फायदा नहीं मिल पा रहा था. इसके परिवार का कहना है कि गरीबी और भूख से उनकी मौत हो गई.

उनका कहना है कि वैद्यनाथ तीन साल से बीपीएल सूची में नाम डलवाने और राशन कार्ड बनवाने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहा था, लेकिन नहीं बन पाया.

वैद्यनाथ के बेटे का कहना है कि अगर उनके पिता को गरीबों से जुड़ी योजनाओं का लाभ मिलता तो उनकी मौत नहीं होती.

इससे पहले झारखंड के सिमडेगा में संतोषी कुमारी नाम की एक बच्ची की मौत भूख से हो गई थी, जिसके बाद सरकार और प्रशासन हरकत में आया था, पर उस मामले में भी संतोषी के परिवार को बहुत परेशानी झेलनी पड़ी. पहले उसे गांव से निकाल दिया गया. फिर प्रशासन के संरक्षण में गांव वापस लाया गया.

advt
Back to top button