महबूबा मुफ्ती ने कहा- घाटी की छवि बदलेगी, मेहमाननवाज कश्मीर कहिए जनाब…

नई दिल्ली: देश-दुनिया में जम्मू-कश्मीर की नकारात्मक छवि राज्य सरकार को खलने लगी है. आतंकवाद के कारण बनी नकारात्मक छवि से ‘धरती की जन्नत’ कहे जाने वाले कश्मीर में पर्यटक नहीं आ रहे हैं.

अब सरकार राज्य की छवि बदलकर इसकी मेहमाननवाज कश्मीर के रूप में पुरानी पहचान को फिर से कायम करना चाहती है.

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि उनकी सरकार पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए एक गहन प्रचार अभियान चलाएगी.

महबूबा ने कहा कि राज्य की नकारात्मक छवि पेश किए जाने से उसके पर्यटन उद्योग का काफी नुकसान हो रहा है.

कश्मीर पर बनी एक फिल्म की स्क्रीनिंग के बाद उन्होंने कहा कि राज्य केवल अपनी सुंदरता के लिए ही नहीं बल्कि अपनी मेहमाननवाजी के लिए भी पहचाना जाता है.

उन्होंने कहा कि मेहमाननवाजी और गर्मजोशी यहां लोगों की जिंदगी में बसी हुई है.

उन्होंने जुलाई में अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले के बाद कश्मीरी लोगों की प्रतिक्रिया का हवाला दिया, जब लोग न केवल अस्पतालों में रक्तदान के लिए आगे आए बल्कि हमले की निंदा करने के लिए सड़कों पर भी उतरे.

एक अन्य घटना का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि एक शिकारा वाले की जान एक अतिथि को बचाते हुए चली गई थी.

महबूबा ने मीडिया से इन पहलुओं का प्रचार करने की अपील करते हुए कहा, ‘‘यह मेहमाननवाजी के पर्याप्त प्रमाण हैं.’’

महबूबा ने राज्य की नकारात्मक छवि पेश किए जाने से पर्यटन उद्योग को होने वाले नुकसान पर खेद भी व्यक्त किया.

उन्होंने कहा कि लोगों को आकर्षित करने के लिए सरकार एक गहन प्रचार अभियान शुरू करेगी.

advt
Back to top button